Connect with us

देश

Bihar: बिहार में गरजे अमित शाह, लालू को दी नसीहत, कहा- पलटू चाचा से संभल कर रहिएगा, कहीं ऐसा ना….

केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने बिहार के पूर्णिया में जनसभा को संबोधित करने के क्रम में नीतीश को आड़े हाथों लेते हुए कहा था कि वे सरकार के साथ दगाबाजी करके अब लालू की गोद में जाकर बैठ गए हैं। उन्होंने आगे कहा कि मैं इस बात से वाकिफ हूं कि मेरे दौरे से नीतीश कुमार और लालू प्रसाद यादव को दर्द हो रहा होगा, लेकिन मैं लालू यादव से यह भी कह देना चाहता हूं कि उन्हें जरा संभल कर रहना होगा।

Published

on

नई दिल्ली। भारतीय राजनीति की घटनाएं इस बात की तस्दीक करने के लिए पर्याप्त है कि नीतीश कुमार उर्फ सुशासन बाबू किसी के भी सगे नहीं हैं और ना ही कभी हो सकते हैं। जिस दिन हो गए। यकीन मानिए, उस दिन भारतीय राजनीति की धाराएं विपरीत हो जाएंगी। आखिर लोगों ने उनका नाम पलटू राम ऐसे ही थोड़े ना रखा है, लेकिन तेजस्वी यादव को पूरा यकीन है कि नीतीश कुमार उनके साथ किसी भी प्रकर की दगाबाजी नहीं करेंगे। खैर, अब ये तो आने वाला वक्त ही बताएगा। लेकिन, बिहार दौरे पर गए अमित शाह आज जनसभा को संबोधित करने पहुंचे, जहां उन्होंने मुख्तलिफ मसलों को लेकर नीतीश कुमार पर निशाना साधा। इस बीच उन्होंने तेजस्वी यादव पर भी तंज कसा। आइए, आगे आपको इसके बारे में विस्तार से बताते हैं।

AMIT SHAH

आपको बता दें कि केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने बिहार के पूर्णिया में जनसभा को संबोधित करने के क्रम में नीतीश को आड़े हाथों लेते हुए कहा था कि वे सरकार के साथ दगाबाजी करके अब लालू की गोद में जाकर बैठ गए हैं। उन्होंने आगे कहा कि मैं इस बात से वाकिफ हूं कि मेरे दौरे से नीतीश कुमार और लालू प्रसाद यादव को दर्द हो रहा होगा, लेकिन मैं लालू यादव से यह भी कह देना चाहता हूं कि उन्हें जरा संभल कर रहना होगा। कहीं ऐसा ना हो कि वो कल को उन्हें भी धोखा देकर कांग्रेस की गोद में जाकर बैठ जाए।

इस बीच नीतीश कुमार ने अमित शाह के दगाओं की फेहरिस्त गिनाते हुए कहा कि भारतीय राजनीति इस बात की तस्दीक करती है कि वे आज तक किसी के भी सगे नहीं हुए हैं। सर्वप्रथम उन्होंने राजनीति में जॉर्ज फर्नांडिस को धोखा दिया था। जार्ज की तबीयत खराब होने के बाद ही वे समता पार्टी के अध्यक्ष बन गए और इससे पहले तो वो लालू यादव को भी धोखा दे चुके हैं, खुद लालू इस बात के जीवंत साक्षी होंगे।


इसके साथ ही उन्होंने नीतीश कुमार को आड़े हाथों लेते हुए कहा कि वो तो हमेशा ही चारा घोटाले के बारे में बोलते रहते हैं, लेकिन अब वो क्या करेंगे। अब तो चारा घोटाले के आरोपी ही बिहार में मंत्री बन गए। अब नीतीश कुमार की क्या प्रतिक्रिया सामने आती है। यह देखने वाली बात होगी।

लालू के 73वें जन्मदिन पर तेजस्वी ने बिहारवासियों को लिखा पत्र, कहा- आज मन थोड़ा व्यथित है

इसके बाद उन्होंने आगे कहा कि जब से बिहार में नीतीश कुमार और आरजेडी ने आपस में हाथ मिलाया है, तब से राज्य में जंगलराज आ चुका है। इसके बाद अपने संबोधन में उन्होंने कहा कि अब आगामी लोकसभा चुनाव में जेडीयू और राजद का सूपड़ा साफ होने जा रहा है। बहरहाल ,अब आगामी दिनों में प्रदेश की राजनीति क्या रुख अख्तियार करती है। इस पर सभी की निगाहें टिकी रहेंगी। तब तक के लिए आप देश दुनिया की तमाम बड़ी खबरों से रूबरू होने के लिए आप पढ़ते रहिए । न्यूज रूम पोस्ट.कॉम

Advertisement
Advertisement
Advertisement