UP : सीएम योगी ने वाराणसी में की विकास कार्यों की समीक्षा

उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (Yogi Adityanath) ने आज वाराणसी (Varanasi) में जनपद के विकास कार्यों की प्रगति की समीक्षा की। उन्होंने गतिमान परियोजनाओं को युद्ध स्तर पर अभियान चलाकर गुणवत्ता के साथ निर्धारित समय-सीमा में पूर्ण कराए जाने के निर्देश दिए।

Avatar Written by: December 22, 2020 9:35 am
CM Yogi Joshi

लखनऊ। उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (Yogi Adityanath) ने आज वाराणसी (Varanasi) में जनपद के विकास कार्यों की प्रगति की समीक्षा की। उन्होंने गतिमान परियोजनाओं को युद्ध स्तर पर अभियान चलाकर गुणवत्ता के साथ निर्धारित समय-सीमा में पूर्ण कराए जाने के निर्देश दिए। उन्होंने मुख्य चिकित्सा अधिकारी, वाराणसी से जनपद में कोविड-19 के मरीजों के उपचार तथा कोरोना वैक्सीनेशन की तैयारियों के सम्बन्ध में जानकारी प्राप्त की। उन्होंने कोल्ड चेन आदि की व्यवस्था पहले से ही सुनिश्चित कराए जाने के निर्देश भी दिए।

yogi

बैठक में मुख्यमंत्री को वाराणसी के मण्डलायुक्त दीपक अग्रवाल व जिलाधिकारी वाराणसी कौशल राज शर्मा ने जनपद में हो रहे विकास कार्यों के सम्बन्ध में विस्तार से अवगत कराते हुए विकास कार्यों एवं निर्माण परियोजनाओं को समय-सीमा में पूर्ण कराए जाने का भरोसा दिया। मुख्यमंत्री को अवगत कराया गया कि वाराणसी में हजारों करोड़ रुपए के उल्लेखनीय एवं ऐतिहासिक विकास कार्य तेजी से हुए हैं। इसी माह 146 करोड़ रुपए लागत की परियोजनाएं पूर्ण हो जाएंगी। अनेक बड़ी परियोजनाएं यथा-186 करोड़ रुपए लागत का कन्वेंशन सेंटर ‘रुद्राक्ष’ मार्च, 2021 में, बी0एच0यू0 में 107.36 करोड़ रुपए का आईयूसीटीई भवन, 121.26 करोड़ रुपए का आवासीय भवन, 200 कमरे का महिला छात्रावास, कैंसर हॉस्पिटल, बीएचयू में डॉक्टर व नर्सेज हेतु हॉस्टल आदि परियोजनाओं के कार्य जून से सितम्बर, 2021 तक पूर्ण हो जाएंगे।

मुख्यमंत्री को अवगत कराया गया कि विगत 5-6 वर्षों में जनपद वाराणसी में व्यापक रूप से सड़कों का चैड़ीकरण हुआ है। 806 करोड़ रुपए की लागत से सुल्तानपुर-वाराणसी 4-लेन चैड़ीकरण की परियोजना मार्च, 2021 में पूर्ण हो जाएगी। घाघरा ब्रिज वाराणसी सेक्शन में 4-लेन चैड़ीकरण की 785 करोड़ रुपए की परियोजना तथा 868.50 करोड़ रुपए की वाराणसी-गाजीपुर सेक्शन के चैड़ीकरण परियोजना मार्च, 2021 में पूर्ण हो जाएगी। इससे वाराणसी की पूर्वांचल के अन्य जनपदों से बेहतर सड़क कनेक्टिविटी हो जाएगी। 1354.67 करोड़ रुपए की परियोजना वाराणसी रिंग रोड फेज-2 का कार्य तेजी से संचालित है। इस परियोजना का लगभग 25 फीसदी कार्य पूर्ण हो चुका है।

yogi

भिखारीपुर तिराहे से एनएच-2 तक चैड़ीकरण, कैंट से पड़ाव मार्ग का चैड़ीकरण मार्च, 2021 में पूर्ण हो जाएगा। बाबतपुर-कपसेठी-भदोही पर आरओबी माह जून, 2021 में तैयार हो जाएगा। वाराणसी-औड़िहार पर आरओबी को फरवरी, 2021 में पूर्ण करने का लक्ष्य है। वरुणा नदी पर कालिकाधाम के पास सेतु निर्माण भी जून, 2021 तक हो जाएगा। आगामी 2 माह में कोनिया-सलारपुर मार्ग पर पुल का निर्माण कार्य पूर्ण हो जाएगा। लहरतारा-फुलवरिया मार्ग पर 1 आरओबी, 1 पुल व 4-लेन सड़क के निर्माण का कार्य तेजी से चल रहा है। यह परियोजना लगभग 47 प्रतिशत पूर्ण हो चुकी है। इसे अगले वर्ष में पूर्ण कर लिया जाएगा।

मुख्यमंत्री को अवगत कराया गया कि काशी विश्वनाथ मन्दिर धाम परियोजना का कार्य युद्ध स्तर पर किया जा रहा है। इस परियोजना को अगस्त, 2021 में पूर्ण कर लिया जाएगा। वाराणसी शहर में कुकिंग गैस पाइप लाइन परियोजना के तहत 23,600 घरों में इंफ्रास्ट्रक्चर कार्य पूर्ण कर लिया गया है। लगभग 4000 घरों में पाइप लाइन से कुकिंग गैस आपूर्ति भी हो रही है। शहर में 10 सीएनजी स्टेशन क्रियाशील हैं तथा 3 सीएनजी पम्प निर्माणाधीन हैं। शहर में वाहन पार्किंग की समस्या के समाधान के लिए गोदौलिया व सर्किट हाउस पर पार्किंग निर्माण का कार्य 70 प्रतिशत पूर्ण हो गया है, यह मार्च, 2021 तक पूर्ण हो जाएगा। टाउन हॉल व बेनियाबाग में भी पार्किंग निर्माण का कार्य माह सितम्बर-दिसम्बर, 2021 तक पूर्ण कर लिया जाएगा।

CM Yogi Adityanath

मुख्यमंत्री को अवगत कराया गया कि चिकित्सा के क्षेत्र में पूर्वांचल का हब बन चुके वाराणसी में दिन-प्रतिदिन स्वास्थ्य व चिकित्सा सेवाओं में बढ़ोत्तरी हो रही है। रामनगर चिकित्सालय में भवनों का निर्माण, दीनदयाल उपाध्याय राजकीय चिकित्सालय परिसर में 50 शैय्यायुक्त महिला चिकित्सालय का निर्माण, अगले माह में पूर्ण हो जाएगा। एसटीपी रमन्ना एवं एसटीपी रामनगर के अवशेष कार्य मार्च, 2021 तक पूर्ण करा लिए जाएंगे। महगांव में आईटीआई निर्माणाधीन है। 84 गंगा घाटों पर यूनिफॉर्म साइनेज, पाण्डेपुर, चकरा, सोनभद्र, नदेसर, चितईपुर तालाबों का विकास व सौन्दर्यीकरण सहित 4 पार्कों के सौन्दर्यीकरण के कार्य भी आगामी डेढ़ माह में पूर्ण हो जाएंगे।

ओल्ड काशी के कालभैरव, कामेश्वर महादेव, राजमन्दिर, जंगमबाड़ी, दशाश्वमेध वाॅर्डों का री-डेवलेपमेण्ट का कार्य जुलाई, 2021 में पूर्ण हो जाएगा। शहर के 720 स्थानों पर एडवांस सर्विलांस कैमरे स्थापित करने का कार्य मार्च, 2021 में पूर्ण हो जाएगा। दशाश्वमेध घाट पुनर्विकास परियोजना एवं खिड़किया घाट परियोजना अगले वर्ष में पूर्ण कर ली जाएंगी। 87.36 करोड़ रुपए की लागत से डॉ सम्पूर्णानन्द स्मार्ट स्पोट्र्स स्टेडियम के री-डेवलेपमेण्ट की परियोजना लागू की जा रही है। इस अवसर पर शासन-प्रशासन के वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित थे।

Support Newsroompost
Support Newsroompost