वित्तमंत्री सीतारमण ने किया आत्मनिर्भर भारत 3.0 का ऐलान

Nirmala Sitharaman Press Conference Updates: वित्तमंत्री ने कहा कि जीएसटी कलेक्शन जैसे कई आंकड़े बेहतर आये हैं और रिजर्व बैंक ने यह संकेत दिया है कि तीसरी तिमाही में ही इकोनॉमी पॉजिटिव जीडीपी ग्रोथ हासिल कर सकती है।

Avatar Written by: November 12, 2020 1:06 pm
Finance Minister Nirmala Sitharaman

नई दिल्ली। कोरोना महासंकट की वजह से पटरी से उतरी अर्थव्यवस्था को सही रास्ते पर लाने के लिए मोदी सरकार ने एक और राहत पैकेज की घोषणा की। वित्तमंत्री निर्मला सीतारमण (FM Nirmala Sitharaman) ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा कि हाल में आए आंकड़े अर्थव्यवस्था में सुधार के संकेत दे रहे हैं। वित्तमंत्री ने कहा कि जीएसटी कलेक्शन जैसे कई आंकड़े बेहतर आये हैं और रिजर्व बैंक ने यह संकेत दिया है कि तीसरी तिमाही में ही इकोनॉमी पॉजिटिव जीडीपी ग्रोथ हासिल कर सकती है। इसके साथ ही उन्होंने आत्मनिर्भर भारत 3.0 का ऐलान कर दिया। आत्मनिर्भर भारत रोजगार योजना की शुरुआत की गई है जिससे देश में नए रोजगार का सृजन हो सके।

अहम बातें-

‘आत्मनिर्भर भारत रोज़गार योजना’ को लॉन्च किया जा रहा है ताकि नए रोज़गार के सृजन को प्रोत्साहन ​दिया जा सके। ये योजना 1 अक्टूबर 2020 से लागू होगी: वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण

बैंकों ने 157.44 लाख किसानों को किसान क्रेडिट कार्ड जारी किए गए हैं। उन्हें दो चरणों में 143262 करोड़ रुपये आवंटित किए गए हैं। प्रधानमंत्री मत्स्य संपदा के तहत 1681 करोड़ रुपये आवंटित किए हैं। नाबार्ड के माध्यम से 25 हजार करोड़ रुपये की कार्यशील पूंजी आवंटित की गई है: वित्तमंत्री निर्मला सीतारमण

आत्मनिर्भर भारत अभियान के पहले चरण का अच्छा प्रदर्शन रहा है। 28 राज्य और केंद्रशासित प्रदेश राशन कार्ड नैशनल पोर्टेबिलिटी के अधीन हैं। इससे 68.6 करोड़ लोगों को फायदा हुआ है। पीएम स्वनिधि योजना के तहत 1373.33 करोड़ रुपये के 13.78 लोन आवंटित किए गए हैं: वित्तमंत्री निर्मला सीतारमण

मूडीज ने पहले इस वित्त वर्ष में भारतीय इकॉनमी में 9.6 फीसदी की गिरावट का अनुमान जताया था जिसे उसने घटाकर अब 8.9 फीसदी कर दिया है। इसी तरह 2022 के अनुमान को 8.1 फीसदी से बढ़ाकर 8.6 फीसदी कर दिया है। यह संकेत है कि भारतीय इकॉनमी पटरी पर लौट रही है: वित्तमंत्री निर्मला सीतारमण

मै कुछ नए उपायों की घोषणा करने जा रही हूं। आप इन्हें स्टीमुलस पैकेज कह सकते हैं। इकॉनमी तेजी से पटरी पर लौट रही है। कोरोना के सक्रिय मामले घटे हैं: वित्तमंत्री निर्मला सीतारमण

अर्थव्यवस्था की हालत में बहुत सुधार हुआ है। कोरोनावायरस के सक्रिय मामले 10 लाख से घटकर 4.89 लाख हो गए हैं। कोरोनावायरस की मृत्य दर भी घटकर 1.47% हो गई है: वित्तमंत्री निर्मला सीतारमण