Connect with us

देश

Independence Day 2022: मदरसों में लगे ‘भारत माता की जय’ के नारे, बच्चों ने बाइक्स पर निकाली तिरंगा रैली

Independence Day 2022: दीनी तालीम देने वाले मुजफ्फरनगर के सभी मदरसों में भी सुबह ध्वजारोहण के साथ-साथ मदरसों के चारों ओर तिरंगे लगाकर आजादी के जश्न को चार चांद लगाए जा रहे हैं। मदरसे के छात्रों ने मोटरसाइकिल पर आगे पीछे तरंगे लगाकर मोटरसाइकिल को दुल्हन की तरह सजा कर आज़ादी के जशन में अपना योगदान दिया।

Published

on

नई दिल्ली। आजादी के अमृत महोत्सव के अवसर को स्वतंत्रता दिवस की 75 वीं वर्षगांठ पर जहां पर देश भर में इस राष्ट्रीय पर्व को धूमधाम के साथ मनाया जा रहा है वहीं जनपद मुजफ्फरनगर में भी आजादी की 75 वीं वर्षगांठ पर सरकारी और गैर सरकारी भवनों के साथ-साथ रिहायशी इलाकों के साठ साथ शहर के सभी प्रमुख चौराहों और प्रतिष्ठानों पर तिरंगा फहराया जा रहा है। दीनी तालीम देने वाले मुजफ्फरनगर के सभी मदरसों में भी सुबह ध्वजारोहण के साथ-साथ मदरसों के चारों ओर तिरंगे लगाकर आजादी के जश्न को चार चांद लगाए जा रहे हैं। मदरसे के छात्रों ने मोटरसाइकिल पर आगे पीछे तरंगे लगाकर मोटरसाइकिल को दुल्हन की तरह सजा कर आज़ादी के जशन में अपना योगदान दिया।

मदरसे में पढ़ने वाले छात्रों का कहना है कि आज हमारे देश को आजाद हुए 75 वर्ष हो गए हैं इसलिए हम आजादी का अमृत महोत्सव मना रहे हैं। इस अवसर पर हमें बहुत खुशी महसूस हो रही है। हमने मदरसे में सुबह राष्ट्रीय ध्वज फहराया और उसके बाद बाइकों पर तिरंगे लगाकर बाइक रैली भी निकाली है। वही मदरसे में छात्रों को पढ़ाने वाले मौलाना का कहना है कि आज हिंदुस्तान के लिए बड़ा महत्वपूर्ण दिन है, क्योंकि आज ही के दिन हमारा देश गुलामी से आजाद हुआ था और इस आजादी के पर्व को हम इस साल अमृत महोत्सव के रूप में मना रहे हैं।

हमने मदरसे में तिरंगा फहरा कर मदरसे में पढ़ने वाले छात्रों को राष्ट्र के प्रति वफादारी और हिंदुस्तान में गंगा जमुना तहजीब को कायम रखने की शपथ दिलाई साथ ही हिंदू-मुस्लिम भाईचारा बढ़ाने का भी संदेश दिया है।

Advertisement
Advertisement
Advertisement