Connect with us

देश

Bihar Politics News: नीतीश के समर्थन के लिए RJD तैयार!, लेकिन तेजस्वी यादव ने रखी दी ये शर्त

Bihar Politics: सूत्रों के मुताबिक, आरजेडी नेता तेजस्वी यादव नीतीश कुमार को समर्थन देने के लिए तैयार है। लेकिन उन्होंने बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के सामने एक शर्त रख दी है। दरअसल तेजस्वी यादव डिप्टी सीएम का पद चाहते हैं। इसके अलावा वो गृह मंत्रालय भी चाहते है।  यदि नीतीश कुमार इस पर अपने विधायकों को इकट्ठा कर लेते है और गृह मंत्रालय पर सहमति बना लेते है। तो फिर 11 अगस्त के बाद नीतीश कुमार बड़ा ऐलान कर सकते है। 

Published

on

नई दिल्ली। बीते कई दिनों से भाजपा और जेडीयू के बीच सब कुछ ठीक नहीं चल रहा है। नीतीश कुमार में भाजपा के सहयोग से राज्य में सरकार चला रहे है। लेकिन कल का दिन नीतीश कुमार के लिए अहम साबित होने वाला है। इसको लेकर कयासों का बाजार गर्म हो गया है। कल नीतीश कुमार ने अपने सांसदों और विधायकों की बैठक बुलाई है। वहीं भाजपा जेडीयू का इस स्थिति को देखते हुए वेट एंड वॉच की मुद्रा में है। आरजेडी भी अपनी रणनीति से लैस है और कांग्रेस पार्टी भी राज्य की सियासत पर नजर बनाए हुए है। बिहार में एनडीए की पुरानी सहयोगी जेडीयू करीब-करीब गठबंधन छोड़ने के लिए लगभग तैयार है। दोनों दलों के नेताओं के बीच वार-पलटवार भी देखने को मिल रहा है। इसी बीच बिहार की राजनीति से जुड़ी एक बड़ी खबर सामने आ रही है।

nitish and modi

सूत्रों के मुताबिक, आरजेडी नेता तेजस्वी यादव नीतीश कुमार को समर्थन देने के लिए तैयार है। लेकिन उन्होंने बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के सामने एक शर्त रख दी है। दरअसल तेजस्वी यादव डिप्टी सीएम का पद चाहते हैं। इसके अलावा वो गृह मंत्रालय भी चाहते है। यदि नीतीश कुमार इस पर अपने विधायकों को इकट्ठा कर लेते है और गृह मंत्रालय पर सहमति बना लेते है। तो फिर 11 अगस्त के बाद नीतीश कुमार बड़ा ऐलान कर सकते है।

nitish kumar

लेकिन देखा जाए तो , गृह विभाग सीएम नीतीश कुमार अपने पास रखते है। मगर तेजस्वी यादव की ओर से ये मांग रखी गई है कि डिप्टी सीएम के साथ गृह मंत्रालय का पद भी दिया जाए। अगर इस पर सहमति बन जाती है तो ये गठबंधन 11 अगस्त के बाद बड़ा ऐलान कर सकता है। बता दें कि जिस तरह से भाजपा और जेडीयू के बीच तनातनी देखने को मिल रही है और इस अनबन के बीच नीतीश कुमार के करीबी रहे सीपी सिंह की पार्टी से छुट्टी हो गई है उसके बाद सवाल उठता है कि आखिर बिहार की सियासत में आगे क्या होगा?

Advertisement
Continue Reading
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Advertisement
Advertisement