Connect with us

देश

Aankita Bhandari: अंकिता हत्याकांड में भाजपा ने आरोपी के पिता और भाई को पार्टी से किया निष्काषित, पहले रिजॉर्ट पर चला था बुलडोजर

अंकिता भंडारी पौड़ी गढ़वाल के रिजॉर्ट में काम करती थी। बीते 18 सितंबर से वो लापता थी। अंत में जब उसका कोई पता नहीं लगा तो उलके माता-पिता ने मालमे की जानकारी पुलिस को दी। पुलिस ने मामले को संज्ञान में लेने के बाद जांच का सिलसिला शुरू किया तो हत्या का मामला सामने आया है। जिसमें मामले में मुख्य आरोपी पुलकित आर्या को गिरफ्तार किया गया है, जो कि बीजेपी के नेता का बेटा निकला, जिसके बाद कांग्रेस बीजेपी पर हमलावर हो गई।

Published

on

नई दिल्ली। अंकिता भंडारी रिसेप्शनिस्ट हत्याकांड मामले में बीजेपी अब एक्शन मोड में आ चुकी है। दरअसल, बीजेपी ने मामले में मुख्य आरोपी पुलकित आर्या के पिता विनोद आर्या और भाई को पार्टी से निष्कासित कर दिया है। इसके साथ ही आरोपी के पिता को उत्तराखण्ड अन्य पिछड़ा वर्ग आयोग के नामित उपाध्यक्ष पद से तत्काल प्रभाव से हटा दिया गया है। ध्यान रहे कि इस पूरे मामले को संज्ञान में लेने के बाद धामी एक्शन सरकार एक्शन मोड में आ चुकी है।  ध्यान रहे कि आरोपी का पिता बीजेपी का सदस्य और उत्तराखंड सरकार में मंत्री भी रह चुका है। जिसके बाद कांग्रेस बीजेपी पर हमलावर हो चुकी है, जिसे ध्यान में रखते हुए पार्टी ने अब तक इस मामले में सबसे बड़ा कदम उठाया है। मालूम हो कि इससे पहले उत्तराखंड के मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने आरोपियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई का आश्वासन दिया था। बीते शुक्रवार को पुलिस ने आरोपियों को गिरफ्तार कर न्यायालय में पेश किया था, जहां से उन्हें सीधे 14 दिनों की न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया था।

 

वहां उनसे मामले के संदर्भ में विस्तृत पूछताछ भी की जाएगी। ध्यान रहे कि आरोपियों को न्यायिक हिरासत में ले जाने के दौरान लोगों का आक्रोश इस कदर चरम पर पहुंच गया था कि वो आरोपियों को मारने पर ही उतारू हो गए थे, जिसके बाद उन्हें जैसे तैसे पुलिस ने लोगों को कहर से बचाया। बहरहाल, मामले जांच अभी-भी जारी है। अब आगामी दिनों में इस पूरे प्रकरण में क्या कुछ सच्चाई निकलकर सामने आती है। इस पर सभी की निगाहें टिकी रहेंगी।

Ankita Murder : अंकिता हत्याकांड के आरोपियों को लोगों ने इतना पीटा कि एक-एक कपड़े फट गए, देखें VIDEO

आपको बता दें कि अंकिता भंडारी पौड़ी गढ़वाल के रिजॉर्ट में काम करती थी। बीते 18 सितंबर से वो लापता थी। अंत में जब उसका कोई पता नहीं लगा तो उसके माता-पिता ने मामले की जानकारी पुलिस को दी। पुलिस ने मामले को संज्ञान में लेने के बाद जांच का सिलसिला शुरू किया तो हत्या का मामला सामने आया। जिसमें मामले में मुख्य आरोपी पुलकित आर्या को गिरफ्तार किया गया है, जो कि बीजेपी के नेता का बेटा निकला, जिसके बाद कांग्रेस बीजेपी पर हमलावर हो गई। वहीं, काफी खोजबीन के बाद पुलिस को अंकिता का शव मिल चुका है। अंकिता के पिता ने खुद अपनी बेटी के शव की पहचान की है। मामले को लेकर राज्य के लोगों का गुस्सा अपने चरम पर पहुंच चुका है। अब ऐसी स्थिति में पूरा माजरा आगामी दिनों में क्या रुख अख्तियार करता है। इस पर सभी की निगाहें टिकी रहेंगी।

Advertisement
Advertisement
Advertisement