‘लुटेरों ने बनाया है लाल किला, हिंदू एक नहीं हुए तो पछताना होगा’, फिर गरजे गिरिराज सिंह

केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह एक बार फिर से गरजे हैं। इस बार उन्होंने साफ चेतावनी दी है कि अगर हिंदू एकजुट नहीं हुए तो उन्हें पछताना पड़ेगा।

Written by: February 16, 2020 6:30 pm

नई दिल्ली। केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह एक बार फिर से गरजे हैं। इस बार उन्होंने साफ चेतावनी दी है कि अगर हिंदू एकजुट नहीं हुए तो उन्हें पछताना पड़ेगा। उन्होंने यह भी कहा कि जवाहर लाल नेहरू के पीएम बनने के बाद कुछ लोगों ने दूसरा बीज डाला था, वही बीज शाहीन बाग में पल रहा है। इससे पहले बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा ने गिरिराज सिंह को कार्यालय में तलब किया था। हाल ही में हुआ दिल्ली विधानसभा चुनाव के दौरान और उसके बाद गिरिराज सिंह ने कई विवादित बयान दिए थे। पार्टी ने इन सभी पर संज्ञान लेते हुए गिरिराज सिंह को तलब किया था।giriraj singh delhi electionगिरिराज सिंह ने मेरठ में कहा कि हम कट्टर नहीं हो सकते, हम तो चींटी को भी गुड़ खिलाते हैं और आस्तीन के सांप को भी नाग पंचमी में दूध पिलाते हैं। धर्म की रक्षा नहीं की तो धर्म भी हमारी रक्षा नहीं करेगा। हमारे देश के बच्चे गायत्री मंत्र नहीं जानते। मैं अपने मुस्लिम भाई को प्रणाम करता हूं। उनके बच्चे धर्म के प्रति जागरूक हैं और शुक्रवार को मस्जिद जाते हैं। हमारे बच्चे मंदिर नहीं जाते।
giriraj singh

गिरिराज सिंह ने हिंदुओं से एकजुट होने की अपील की और यह भी कहा कि वरना हिंदुओं को पछताना पड़ेगा उन्होंने कहा कि हिन्दू जातियों में बांटा हुआ है। अगर हम एक नहीं हुए तो पछतावा होगा। हमारे सोए हुए शेर को जगाओ मत। मेरठ का पटेल नगर इस्लामनगर हो गया है। अब इस देश को बचा लो। इसलिए ही मैं आज लोगों को जागरूक करने आया हूं। गिरिराज ने यहां तक बोल दिया कि लुटेरों ने बनाया है लाल किला।Giriraj Singh

इससे पहले गिरिराज सिंह ने दारुल उलूम को आतंक की गंगोत्री कहा था। इतना ही नहीं मुस्लिम राष्ट्र बनाने की साजिश का इशारा भी किया था। उन्होंने शाहीनबाग के बारे में कहा था कि नागरिकता कानून के खिलाफ लड़ाई नहीं लड़ रहे हैं बल्कि वह गजवा-ए-हिंद के लिए लड़ाई लड़ रहे हैं। हम उनके इस मकसद को कामयाब नहीं होने देंगे। गिरिराज ने ट्वीट करते हुए यहां तक लिखा था कि शाहीन बाग अब सिर्फ आंदोलन नहीं रह गया है। यहां सुसाइड बंबर का जत्था बनाया जा रहा है।