Connect with us

देश

Ghaziabad: पत्नी ने बॉयफ्रेंड संग पति को सुलाया मौत की नींद, प्रेमी के घर में दफन की लाश, 4 साल बाद हुआ खुलासा

Ghaziabad: इसके बाद बॉयफ्रेंड ने किसी को शक न हो, लाश को अपने घर में ही करीब 6 फुट गहरा गड्ढा खोदकर उसमें दफना कर दिया। मगर आज 4 साल बाद पुलिस ने इस गुत्थी को सुलझने का दावा किया है। पुलिस ने आरोपी के घर पर गड्ढा खोदकर कंकाल भी निकाला है।

Published

नई दिल्ली। दिल्ली से सटे गाजियाबाद से ऐसा सनसनीखेज खुलासा है, जिसे सुनकर आप भी हक्के-बक्के रह जाएंगे। आपने फिल्म दृश्यम तो देखी ही होगी। जिसमें एक्टर अजय देवगन अपने शातिर दिमाग से परिवार को बचाने के लिए एक लाश को पुलिस स्टेशन के नीचे ही ठिकाना लगा देता है। पुलिस के हाथ कोई सुराग नहीं लगता है और वो बच जाता है। ठीक वैसा ही केस गाजियाबाद से आया है। दरअसल गाजियाबाद पुलिस ने चार साल पहले लापता हुए चंद्रवीर सिंह उर्फ पप्पू केस की गुत्थी को सुलझा लिया है। खुद गाजियाबाद पुलिस ने इसकी जानकारी दी है। बता दें कि गाजियाबाद में फिल्मी अंदाज में एक महिला ने बॉयफ्रेंड के साथ मिलकर अपने पति को हमेशा के लिए मौत की नींद सुला दिया। खबरों के मुताबिक, पहले उसके सिर पर गोली मारी और फिर एक हाथ कुल्हाड़ी के जरिए काट दिया। इसके बाद बॉयफ्रेंड ने किसी को शक न हो, लाश को अपने घर में ही करीब 6 फुट गहरा गड्ढा खोदकर उसमें दफना कर दिया। मगर आज 4 साल बाद पुलिस ने इस गुत्थी को सुलझने का दावा किया है। पुलिस ने आरोपी के घर पर गड्ढा खोदकर कंकाल भी निकाला है। पुलिस ने मामले मृतक की पत्नी सविता और उसके प्रेमी अरुण उर्फ अनिल को धर दबोचा है।

यह पूरा मामला नंदग्राम थाना क्षेत्र के गांव सिकरोड का बताया जा रहा है। भूरे सिंह ने 5 अक्टूबर 2018 को थाने में भाई चंद्रवीर सिंह उर्फ पप्पू के गुमशुदा होने क शिकायत दर्ज कराई थी। हालांकि, पुलिस ने मामले को सुलझाने के प्रयास किए। लेकिन कई दिनों की खोजबिन के बाद भी कोई शिकायत नहीं मिली। हालांकि, अब काफी विवेचान के बाद कोर्ट में अंतिम रिपोर्ट दाखिल की गई है। बीते दिनों एसएसपी ने ऐसे केसों की जांच पड़ताल के निर्देश दिए, जिसके बाद क्राइम ब्रांच फिर से सक्रिय हो गई। एसपी क्राइम दीक्षा शर्मा ने बताया कि, जब मामले को लेकर बेटी से पूछताछ की गई। तो उसने अपनी मां और पड़ोस में रहने वाले अरुण उर्फ अनिल पर शक जताया। जिसके बाद पुलिस दोनों को हिरासत में सख्ती से पूछताछ की, फिर इस वारदात का खुलासा हो गया।

इस पूरे प्रकरण पर एसपी क्राइम दीक्षा शर्मा ने बताया कि, महिला ने अपने प्रेमी के साथ मिलकर उसकी 4 साल पहले हत्या कर दी और उसने अपने ही घर पर ही 6 से 7 फुट गड्ढा खोदकर उसी में दबा दिया था। पुलिस ने बताया कि, 28 सितंबर 2018 को चंद्रवीर को पत्नी ने प्रेमी साथ मिलकर मारने की साजिश रची थी। इतना ही नहीं मारने से पहले प्रेमी ने चंद्रवीर के सिर के नीचे बल्टी रख दी थी जिससे की खून जमीन पर न गिरे और किसी को शक ना हो।

इसके बाद फिर उसने चंद्रवीर को पहले सिर पर गोली मारकर मौत की नींद सुला दिया। वहींं चंद्रवीर की पहचान न हो पाए, इसके लिए उसके कलाई में पहना हुआ कड़ा निकलने के लिए कुल्हाड़ी से हाथ काट दिया। फिर प्लान के तहत उसकी बॉडी को दोनों ने प्रेमी के घर पर गहरा गड्ढा खोदकर उसमें दफन कर दिया।

Advertisement
Advertisement
Advertisement