रतुल पुरी और दीपक पुरी के ठिकानों पर 787 करोड़ के बैंक घोटाले में सीबीआई की छापेमारी

सीबीआई के एक अधिकारी ने कहा, “पीएनबी और अन्य बैंकों को हुए 787.25 करोड़ रुपये के नुकसान के संबंध में एजेंसी की कई टीमें आरोपियों के दिल्ली और नोएडा के ठिकानों पर तलाशी अभियान चला रही हैं, इनमें मोजर बेयर सोलर लिमिटेड (एमबीएसएल) के निदेशक दीपक पुरी, रतुल पुरी और अन्य शामिल हैं।”

Avatar Written by: June 26, 2020 3:35 pm

नई दिल्ली। केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) ने शुक्रवार को मध्यप्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ के भांजे रतुल पुरी के दिल्ली और नोएडा में आधा दर्जन से अधिक ठिकानों पर छापे मारे। पंजाब नेशनल बैंक और अन्य के साथ 787 करोड़ रुपये के कथित धोखाधड़ी के संबंध में नया मामला दर्ज करने के बाद ये छापे मारे गए हैं। सीबीआई के एक अधिकारी ने कहा, “पीएनबी और अन्य बैंकों को हुए 787.25 करोड़ रुपये के नुकसान के संबंध में एजेंसी की कई टीमें आरोपियों के दिल्ली और नोएडा के ठिकानों पर तलाशी अभियान चला रही हैं, इनमें मोजर बेयर सोलर लिमिटेड (एमबीएसएल) के निदेशक दीपक पुरी, रतुल पुरी और अन्य शामिल हैं।”

Ratul Puri

अधिकारी ने कहा कि छापे हाल ही में पीएनबी द्वारा एमबीएसएल और अन्य के खिलाफ शिकायत दर्ज किए जाने के मद्देनजर मारे गए हैं, जिसमें इसके निदेशक और अन्य अज्ञात व्यक्ति और बैंक अधिकारी शामिल हैं। छापेमारी के दौरान टीम के सदस्यों ने कोरोनावायरस महामारी के मद्देनजर सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए सभी एहतियात बरते। टीम के सदस्यों ने पीपीई किट पहन रखा था।

अगस्त 2019 में, सीबीआई ने मोजर बेयर इंडिया लिमिटेड (एमबीआईएल) के खिलाफ एक मामला दर्ज किया था और सेंट्रल बैंक ऑफ इंडिया के साथ 354.51 करोड़ रुपये की धोखाधड़ी करने के संबंध में इसके वर्तमान और पूर्व अधिकारियों को पकड़ने के लिए छह जगहों पर छापे मारे थे। रतुल पुरी मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ की बहन नीता पुरी के बेटे हैं।

बता दें कि इससे पहले भी रतुल पुरी के खिलाफ ईडी ने मनी लॉन्ड्रिंग का मामला दर्ज कर गिरफ्तार किया था। रतुल पुरी अगस्ता वेस्टलैंड मामले में भी आरोपी है।