कोरोना के डर से खाली हुआ चेन्नई का शाहीन बाग, अब दिल्ली के शाहीन बाग की बारी!

देशभर में कोरोनावायरस आगे बढ़ते प्रकोप के चलते चेन्नई का शाहीन बाग खाली करा लिया गया है। शाहीन बाग में प्रदर्शन कर रहे लोगों ने खुद यहां से हटने का फैसला लिया।

Written by: March 18, 2020 1:29 pm

नई दिल्ली। देशभर में कोरोनावायरस आगे बढ़ते प्रकोप के चलते चेन्नई का शाहीन बाग खाली करा लिया गया है। शाहीन बाग में प्रदर्शन कर रहे लोगों ने खुद यहां से हटने का फैसला लिया। चेन्नई में नागरिकता संशोधन कानून (सीएए) और राष्ट्रीय नागरिकता रजिस्टर (एनआरसी) के खिलाफ लंबे अरसे से चल रहे प्रदर्शन को अब रोक दिया गया है। चेन्नई के शाहीन बाग में दिल्ली की शाहीन बाग की तर्ज पर ही प्रदर्शन चल रहा था।

CAA Protest

चेन्नई के वाशरमेंपेट में पिछले कई दिनों से सीएए, एनआरसी और एनपीआर के खिलाफ आंदोलन का झंडा बुलंद किया गया था, मगर कोरोनावायरस के खतरे को लेकर खुद मुस्लिम समाज के प्रतिनिधि आगे आए। उन्होंने अपील जारी की। उनकी अपील पर इस प्रदर्शन को रोक दिया गया। मगर दिल्ली में बैठे शाहीन बाग के प्रदर्शनकारी अभी भी डटे हुए हैं। दिल्ली पुलिस और आरडब्ल्यूए दोनों ने मिलकर उन्हें समझाने की कोशिश की थी।

Corona Virus

दिल्ली सरकार ने भी एक जगह पर 50 से ज्यादा लोगों को इकट्ठा न होने के लिए कहा है। इस सबके बावजूद दिल्ली के शाहीन बाग में महिलाओं का धरना जारी है। प्रदर्शन में मौजूद महिलाओं का कहना है कि अगर वे यहां से हटी तो दोबारा बैठने नहीं दिया जाएगा। उनकी नागरिकता चली जाएगी।

इन सबके बीच जानकारी यह भी मिल रही है कि सरकार इस मामले में सख्त कदम उठा सकती है। सुप्रीम कोर्ट में 23 मार्च को शाहीन बाग मामले की सुनवाई भी है। अगर प्रदर्शनकारी तब तक नहीं हटे तो सुप्रीम कोर्ट को वस्तु स्थिति से अवगत करा शाहीन बाग के प्रदर्शनकारियों को जबरदस्ती वहां से हटाया जा सकता है।