Corona Vaccine: भारत बायोटेक और सीरम आपस में भिड़े, CM गहलोत ने की पीएम से दखल की मांग

Corona Vaccine: केंद्र सरकार ने कोरोना महामारी को हराने के लिए भारत में बनी स्वदेशी कोरोना वैक्सीन (Corona Vaccine) की मंजूरी दे दी। DCGI ने भारत बायोटेक (Bharat Biotech) की कोवैक्सीन (Covaxin) और सीरम इंस्टीट्यूट (Serum Institute of India) की कोविशील्ड (COVISHIELD) को आपात प्रयोग की मंजूरी दी है। हालांकि अब कोरोना वैक्सीन को लेकर कंपनियों के बीच ही आपस में विवाद छिड़ गया है।

Avatar Written by: January 5, 2021 2:27 pm
Ashok Gehlot and PM Narendra Modi

नई दिल्ली। केंद्र सरकार ने कोरोना महामारी को हराने के लिए भारत में बनी स्वदेशी कोरोना वैक्सीन (Corona Vaccine) की मंजूरी दे दी। DCGI ने भारत बायोटेक (Bharat Biotech) की कोवैक्सीन (Covaxin) और सीरम इंस्टीट्यूट (Serum Institute of India) की कोविशील्ड (COVISHIELD) को आपात प्रयोग की मंजूरी दी है। हालांकि अब कोरोना वैक्सीन को लेकर कंपनियों के बीच ही आपस में विवाद छिड़ गया है। दोनों अपनी-अपनी वैक्सीन को बेहतर बता रही हैं। वहीं अब इस विवाद को लेकर राजनीति भी शुरू हो गई हैं। राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत (CM Ashok Gehlot) ने बायोटेक और एसआईआई की बयानबाजी को दुर्भाग्यपूर्ण बताया है।

corona vaccine

सीएम अशोक गहलोत ने मंगलवार को ट्वीट कर लिखा, ‘सीरम इंस्टिट्यूट और भारत बायोटेक कंपनियों की वैक्सीन को भारत में मंजूरी मिलने के बाद दोनों कंपनियों के बीच हुई आपसी बयानबाजी दुर्भाग्यपूर्ण है। यह संवेदनशील मुद्दा है जिसमें प्रधानमंत्री को दखल देना चाहिए।’

वहीं कांग्रेस नेता मनीष तिवारी (Congress leader Manish Tewari) ने केंद्र सरकार पर निशाना साधते हुए कहा, ‘भाजपा सरकार ने अपनी समग्रता में कोविड-19 महामारी का राजनीतिक दुरुपयोग किया है। वैक्सीन पर विवाद इसकी नवीनतम अभिव्यक्ति है। ऐसा कौन है जो इस वैक्सीन को लगवाएगा जिसकी विश्वसनीयता पर प्रश्नचिह्न लग रहे हैं।’

उन्होंने कहा  कि, ‘भाजपा सरकार ने उस कंपनी के लिए एक महान कार्य किया है जिसने अनुसंधान और विकास में करोड़ों रुपये का निवेश किया होगा। अपने ‘आत्मानिर्भर भारत’ को सिद्ध करने की उनकी खोज में, उन्होंने एक ऐसी वैक्सीन को लाइसेंस दिया है जिसका तीसरा चरण पूरा नहीं हुआ है।’

वहीं अब सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया के प्रमुख अदार पूनावाला ने मंगलवार को एक ट्वीट कर जानकारी दी है कि जल्द ही भारत बायोटेक के साथ जारी विवाद को लेकर साझा बयान जारी किया जाएगा।

Support Newsroompost
Support Newsroompost