Connect with us

देश

Mundka Fire: दिल्ली के मुंडका में भीषण अग्निकांड में 24 से ज्यादा की मौत, PM मोदी ने मृतक परिजनों और घायलों के लिए दी मदद

पुलिस के मुताबिक जहां से आग शुरू हुई, वहां एक कंपनी इंटरनेट राउटर और सीसीटीवी कैमरे बनाने का काम करती है। यहां प्लास्टिक और अन्य ज्वलनशील सामग्री होने का अंदेशा है और माना जा रहा है कि इसी वजह से आग तेजी से फैल गई। बिल्डिंग के दो मालिकों को पुलिस ने हिरासत में भी लिया है।

Published

mundka fire 1

नई दिल्ली। दिल्ली के मुंडका मेट्रो स्टेशन के पिलर नंबर 544 के पास शुक्रवार शाम करीब पौने 5 बजे लगी आग में दो दर्जन से ज्यादा लोगों की मौत होने की खबर है। अब तक 27 लोगों के शव दमकलकर्मियों ने बाहर निकाले हैं। 50 लोग इस अग्निकांड में घायल हुए हैं। 19 लोग अब भी लापता बताए जा रहे हैं। कई लोगों ने आग से बचने के लिए बिल्डिंग के दूसरे और तीसरे माले से छलांग लगाई और रस्सी के सहारे उतरे। इसमें भी कई लोगों को गंभीर चोट लगी है। बिल्डिंग के मालिकों को पुलिस ने हिरासत में लिया है। पीएम नरेंद्र मोदी ने इस अग्निकांड में जान गंवाने वालों के परिजनों के लिए प्रधानमंत्री राहत कोष PMNRF से दो-दो लाख रुपए और घायलों के लिए 50-50 हजार रुपए की धनराशि की मदद का एलान किया है।

दिल्ली पुलिस के मुताबिक इस कॉमर्शियल बिल्डिंग की पहली मंजिल पर आग लगी थी। आग देखते ही देखते फैल गई और उसने दूसरी और तीसरी मंजिल को भी अपनी चपेट में ले लिया। यहां पहले दमकल विभाग ने 15 गाड़ियों से आग बुझाने की कोशिश की, लेकिन आग की लपटें कम होने का नाम ही नहीं ले रही थीं। इसके बाद रोबोट के जरिए भी आग बुझाने की कोशिश की गई। इसमें भी नाकामी हाथ लगने के बाद रात को और दमकल गाड़ियों को यहां लगाया गया और देर रात आग बुझाने में कामयाबी मिली। पुलिस के मुताबिक उसने दर्जनों लोगों को यहां से निकाला। हालांकि, मृतक संख्या बढ़ने का अंदेशा लगाया जा रहा है।

mundka fire

पुलिस के मुताबिक जहां से आग शुरू हुई, वहां एक कंपनी इंटरनेट राउटर और सीसीटीवी कैमरे बनाने का काम करती है। यहां प्लास्टिक और अन्य ज्वलनशील सामग्री होने का अंदेशा है और माना जा रहा है कि इसी वजह से आग तेजी से फैल गई। हादसे में जिनकी जान बच गई है, उनसे पुलिस पूछताछ कर रही है, ताकि आग लगने की वजह का पता चल सके। पुलिस ने बिल्डिंग के मालिक हरीश गोयल और वरुण गोयल को हिरासत में लिया है और दमकल विभाग ये छानबीन कर रहा है कि बिल्डिंग में आग से बचने के यंत्र और व्यवस्था थी या नहीं।

Advertisement
Advertisement
Advertisement