Connect with us

देश

Digvijaya Singh: लाल सिंह चड्डा की आग में कूदे दिग्विजय सिंह, तारीफ की तो लोगों ने ‘चचा’ के ऐसे लिए चटकारे

Digvijay Singh: वहीं लाल सिंह चड्डा की आग में कूदे दिग्विजय सिंह को सोशल मीडिया पर लोगों ने जमकर ट्रोल कर दिया। एक यूजर ने कांग्रेस नेता की खिंचाई करते हुए लिखा, ”चचा यहीं कमी थी, राजनीति में तुम खत्म अब फिल्म क्रिटिक्स बन जाओ ,कौन सी देखो और क्या नहीं ? मोदी शाह बस यही करेगे अब?”

Published

on

नई दिल्ली। कई दिनों से चल रहे बॉयकॉट के बाद गुरुवार को आखिर फिल्म लाल सिंह चड्ढा रिलीज़ हो गई है। अभिनेता आमिर खान और करीना कपूर खान अभिनयकृत फिल्म दर्शकों को सिनेमा तक बुलाने में नाकाम रही क्योंकि ज्यादातर सिनेमाघरों में कुर्सियां खाली दिखीं। मुश्किल से कुछ लोग ही फिल्म को देख रहे थे। बता दें कि फिल्म के निर्देशक अद्वैत चंदन है और अतुल कुलकर्णी ने इस फिल्म के स्क्रीनप्ले को लिखा है। फिल्म लाल सिंह चड्ढा हॉलीवुड फिल्म फारेस्ट गम्प का रीमेक है। इसी बीच फिल्म लाल सिंह चड्ढा के बायकॉट को लेकर कांग्रेस के वरिष्ठ नेता दिग्विजय सिंह की भी एंट्री हो गई। फिल्म को लेकर लगातार उठा रही बायकॉट की मांग पर दिग्विजय सिंह की प्रतिक्रिया सामने आई है। इतना ही नहीं आमिर खान की फिल्म लाल सिंह चड्ढा के बहिष्कार के पीछे पीएम मोदी और गृह मंत्री अमित शाह को जिम्मेदार ठहराया है।

lal singh chdda

दिग्विजय सिंह ने गुरुवार को ट्वीट कर लिखा, ”मेरा मानना है कि #BoycottLalSinghChadha ट्रेंड कर रहा है। क्यों? इसके पीछे कौन है? मोदी शाह ट्रोल आर्मी के सिवा और कौन !! वे अलोकतांत्रिक सत्तावादी और तानाशाही हैं। जो रोबोट की तरह काम करते है। दर्शकों को दोनों फिल्में देखने दें और तय करें कि कौन सी बेहतर है। एलएससी और रक्षा बंधन दोनों फिल्में देखें।”

लोगों ने लगाई दिग्विजय सिंह की क्लास

वहीं लाल सिंह चड्डा की आग में कूदे दिग्विजय सिंह को सोशल मीडिया पर लोगों ने जमकर ट्रोल कर दिया। एक यूजर ने कांग्रेस नेता की खिंचाई करते हुए लिखा, ”चचा यहीं कमी थी, राजनीति में तुम खत्म अब फिल्म क्रिटिक्स बन जाओ ,कौन सी देखो और क्या नहीं ? मोदी शाह बस यही करेगे अब?”

बी सिंह नाम के यूजर ने लिखा, आप जितना सीनियर ओर निठल्ला नेता नही देखा,जो फालतू के विषयों पर उंगली करते है, कांग्रेस के डूबने के कारण यही है, जिनकी उम्र हैं उन्हें आगे ला नही रहे, ओर जो सठिया गए है उनको हटा नही रहे है। लाल सिंह हो या भूरा सिंह विपक्ष का रोल अच्छे से निभाओ,BJP IT सेल की फालतू चीजो में मत फ़सो।

प्रवीण नाम के यूजर ने दिग्विजय सिंह पर निशाना साधते हुए लिखा, चाचा, जिसे न निज गौरव न निज देश का अभिमान है वह नर नही निरा पशु है और मृतक समान है। अब आप अपने आप को देखे जो आपके देश को रहने योग्य न माने आप उसकी फ़िल्म देखने के लिए बोल रहे हो।

फिल्म की स्टोरी की बात करें तो, लाल सिंह चड्ढा लाल नाम के एक व्यक्ति की कहानी है। जो शारीरिक रूप से समर्थ नहीं है लेकिन जहां भी जाता है, सफल होकर आता है। कभी वो दौड़ में आगे हो जाता है तो कभी वो सबसे जल्दी बन्दूक की साफ़ सफाई करके उसे सेट कर लेता है। एक सैनिक के रूप में वो एक युद्ध का हिस्सा भी बनता है लेकिन उसी युद्ध से वो तब भाग जाता है जब दुश्मन उसके सैनिकों को मार रहे होते हैं। उसके बाद जब वो जख्मी सैनिकों को उठाकर लाता है, तब साथ ही में वो अपने दुश्मन को भी उठाकर ले आता है जिसने न जाने कितने सैनिकों को गोलियों से भूना है। इसके अलावा फिल्म में कहानी के माध्यम से बहुत सारे कंट्रोवर्सिअल मुद्दे भी दिखाए गए हैं।

Advertisement
Continue Reading
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Advertisement
Advertisement