आंधी और भारी बारिश से मुंबई हुई बेहाल, रेड अलर्ट जारी, उद्धव से बोले पीएम मोदी, मिलेगी मदद

मुंबई के चेंबूर, परेल, हिंदमाता, वडाला और अन्य क्षेत्रों के निचले इलाकों में जलभराव की खबरें हैं। मुम्बई से सटे काशिमिरा ब्रिज के पास का जलभराव के कारण वसई, नालासोपारा से मुम्बई आने वाले लोग घंटों से ट्रैफिक में फंसे हुए हैं, यहां अभी भी जलभराव बना हुआ है।

Avatar Written by: August 5, 2020 10:40 pm

नई दिल्ली। महाराष्ट्र में मुंबई और इसके पड़ोसी जिलों ठाणे तथा पालघर में बुधवार को तेज हवाओं के साथ हुई भारी बारिश के चलते उपनगरीय ट्रेन एवं बस सेवाएं प्रभावित हो गई। मौसम खराब होने से जनजीवन भी अस्त व्यस्त हो गया। वहीं, मौसम विभाग ने गुरुवार (6 अगस्त) सुबह तक मूसलाधार बारिश जारी रहने का पूर्वानुमान किया है।

pm modi uddhav thackrey

मुंबई के चेंबूर, परेल, हिंदमाता, वडाला और अन्य क्षेत्रों के निचले इलाकों में जलभराव की खबरें हैं। मुम्बई से सटे काशिमिरा ब्रिज के पास का जलभराव के कारण वसई, नालासोपारा से मुम्बई आने वाले लोग घंटों से ट्रैफिक में फंसे हुए हैं, यहां अभी भी जलभराव बना हुआ है।

Mumbai Rain

महाराष्ट्र में इस आफत से हुई भारी तबाही के बीच प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सीएम उद्धव ठाकरे से बात की और हालात का जायजा लिया। पीएम ने उद्धव ठाकरे को हरसंभव मदद का भरोसा भी दिलाया है।


इधर, शिवसेना नेता आदित्य ठाकरे ने लोगों से घरों में रहने की अपील की है। उन्होंने ट्वीट करके कहा कि आंधी और तेज बारिश की आशंका बनी हुई है। बिना जरूरत के घरों से बाहर ना निकलें।


वहीं पड़ोसी रायगढ़ जिले के न्हावा शेवा में स्थित जवाहरलाल नेहरू पोर्ट ट्रस्ट (जेएनपीटी) पर तैनात तीन उच्च क्षमता की क्रेन आज दोपहर तेज गति की हवाएं बहने से ढह गई। हालांकि, इस घटना में कोई हताहत नहीं हुआ। देश के सबसे बड़े बंदरगाहों में शामिल जेएनपीटी में ‘तेज गति से हवाएं चलने के कारण हमारे टर्मिनल में एक पर तीन मुख्य क्रेन ढह गई, लेकिन इस घटना में कोई भी घायल नहीं हुआ।’


मुंबई के कांदिवली में मूसलाधार बारिश के दौरान भारी भूस्खलन की वजह से वेस्टर्न हाईवे बंद हो गया। रोड पर अचानक बड़ी-बड़ी चट्टानें आ गिरीं। हालांकि हाईवे से गुजर रही बसें और कार भूस्खलन के दौरान बालबाल बच गयीं। मुंबई में चरनी रोड स्टेशन के पास एक पेड़ गिरने के चलते और चिंगारी से आग लग जाने पर तार और उपकरण क्षतिग्रस्त हो गये।

Mumbai Rain

अधिकारियों ने बताया कि पश्चिमी महाराष्ट्र के पुणे, सतारा और कोल्हापुर जिलों में भी बारिश हुई। भारतीय मौसम विभाग ने नयी दिल्ली में एक विशेष बुलेटिन में कहा कि मुंबई और इसके पड़ोसी इलाकों में गुरुवार (6 अगस्त) सुबह तक अत्यधिक भारी बारिश जारी रहेगी। साथ ही, छह अगस्त की सुबह मुंबई और इससे लगे कोंकण तट पर 70 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से हवाएं भी चलने की संभावना है। वहीं, स्थानीय मौसम विभाग ने चेतावनी दी है कि मुंबई और उपनगरीय इलाकों में प्रतिघंटे 30 से 50 मिमी बारिश हो सकती है।


सायन और कुर्ला इलाकों में पटरियों पर जलभराव हो गया है और ट्रेनें देरी से चल रही हैं। मध्य रेलवे के मुख्य प्रवक्ता शिवाजी सुतार ने बताया कि छत्रपति शिवाजी महाराज टर्मिनल से कसारा (ठाणे), खोपोली (रायगढ़), पनवेल (नवी मुंबई) और गोरेगांव तक उनकी उपनगरीय सेवाएं भारी बारिश के बावजूद चल रही हैं।

Mumbai Rain

इस बीच, राष्ट्रीय आपदा मोचन बल (एनडीआरएफ) ने शाम में कहा कि उसने मस्जिद बंदर और बायकुला स्टेशनों के बीच यहां मध्य लाइन पर एक लोकल ट्रेन में फंसे करीब 150 यात्रियों को सुरक्षित बाहर निकाल लिया। 100 अन्य यात्री अब भी ट्रेन के अंदर हैं। एक अधिकारी ने यह जानकारी दी। मौसम विभाग ने बुधवार शाम छह बजे एक अलर्ट जारी किया, जिसमें कहा गया है कि 70 से 80 किमी प्रति घंटा की रफ्तार से तेज हवाएं चल सकती है और यह अगले तीन चार घंटों में यह कभी-कभी 100 किमी प्रति घंटा की रफ्तार से भी चल सकती है।