Connect with us

देश

भाजपा में आत्ममंथन का असर, नाराज एकनाथ खडसे को मनाने पहुंचे देवेंद्र फडणवीस

एक के बाद दूसरी हार को देखते हुए भारतीय जनता पार्टी आत्ममंथन की प्रक्रिया में है। इसी कड़ी के तहत उन बड़े नेताओं को, जो किसी वजह से पार्टी से नाराज हैं मनाया जा रहा है। उन्हें साथ में जोड़ा जा रहा है। राज्यों के नेतृत्व से भी सभी को साथ लेकर चलने के लिए कहा गया है।

Published

नई दिल्ली। एक के बाद दूसरी हार को देखते हुए भारतीय जनता पार्टी आत्ममंथन की प्रक्रिया में है। इसी कड़ी के तहत उन बड़े नेताओं को, जो किसी वजह से पार्टी से नाराज हैं मनाया जा रहा है। उन्हें साथ में जोड़ा जा रहा है। राज्यों के नेतृत्व से भी सभी को साथ लेकर चलने के लिए कहा गया है। झारखंड में बीजेपी के बागी नेता सरजू राय के हाथों पूर्व मुख्यमंत्री रघुवर दास की हार से बीजेपी ने काफी सबक लिया है।

eknath-khadse

इसी कड़ी में महाराष्ट्र के नाराज नेता एकनाथ खडसे को मनाने के लिए महाराष्ट्र के पूर्व मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस जलगांव पहुंचे। दरअसल, स्थानीय निकाय के चुनाव प्रचार के लिए आज देवेंद्र फडणवीस को धुले जाना था। लेकिन उन्होंने रास्ते में जलगांव में कुछ वक्त रुकने का फैसला किया।

Devendra Fadnavis

फडणवीस के स्वागत में सभी स्थानीय नेता आए लेकिन खडसे नहीं आए। इसके बाद खुद फडणवीस उनसे मिलने पहुंच गए। दोनो नेताओं में काफी देर तक बातचीत हुई। इससे पहले खडसे ने विधानसभा चुनाव का टिकट नहीं मिलने के लिए फडणवीस को जिम्मेदार ठहराया था।

shivsena

खडसे पिछली सरकार में  मंत्रिमंडल से  हटाए जाने को लेकर भी काफी नाराज चल रहे थे। बीच में उनकी शिवसेना के साथ बातचीत की खबरें भी आई थी। इस मुलाकात के जरिए बीजेपी अपने नाराज नेताओं से संवाद कायम कर रखने का संदेश देना चाहती है। एक बार फिर से पार्टी को एकजुट करने और असंतुष्टों को जोड़ने की कवायद शुरू हो गई है।

Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement