पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी के निधन पर राष्ट्रपति-पीएम मोदी समेत कई दिग्गजों ने शोक व्यक्त किया

देश के पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी (Pranab Mukherjee) का आज दिल्ली के आर्मी रिसर्च और रेफरल अस्पताल में निधन हो गया। इस बात की जानकारी उनके बेटे अभिजीत मुखर्जी ने ट्वीट कर दी।

Avatar Written by: August 31, 2020 6:26 pm

दिल्ली। देश के पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी (Pranab Mukherjee) का आज दिल्ली के आर्मी रिसर्च और रेफरल अस्पताल में निधन हो गया। इस बात की जानकारी उनके बेटे अभिजीत मुखर्जी ने ट्वीट कर दी। प्रणब लंबे समय से बीमारी से जूझ रहे थे। पूर्व राष्ट्रपति 84 साल के थे। प्रणब 2012 से 2017 तक भारत के तेरहवें राष्ट्रपति रहे। प्रणब मुखर्जी को 2019 में भारत रत्न से सम्मानित किया गया था। प्रणब दादा का जन्म 11 दिसंबर 1935 को पश्चिम बंगाल के मिरिटी गांव में हुआ था।

Pranab Mukherjee

प्रणब मुखर्जी के निधन पर राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद (President Ramnath Kovind) ने ट्वीट कर श्रद्धांजलि दी। रामनाथ कोविंद ने ट्वीट में लिखा कि प्रणब मुखर्जी के निधन की खबर सुनकर दुख हुआ। उनका जाना एक युग का अंत है। प्रणब मुखर्जी ने देश की सेवा की, आज उनके जाने पर पूरा देश दुखी है।

दूसरे ट्वीट में उन्होंने लिखा, असाधारण विवेक के धनी, भारत रत्न श्री मुखर्जी के व्यक्तित्व में परंपरा और आधुनिकता का अनूठा संगम था। 5 दशक के अपने शानदार सार्वजनिक जीवन में, अनेक उच्च पदों पर आसीन रहते हुए भी वे सदैव जमीन से जुड़े रहे। अपने सौम्य और मिलनसार स्वभाव के कारण राजनीतिक क्षेत्र में वे सर्वप्रिय थे।

प्रधानमंत्री मोदी ने ट्वीट कर दी श्रद्धांजलि

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) ने ट्वीट कर प्रणब मुखर्जी के निधन पर दुख जताया। पीएम मोदी ने ट्वीट किया, ‘भारत रत्न प्रणब मुखर्जी के निधन पर पूरा देश शोक में है। उन्होंने हमारे राष्ट्र के विकास पथ पर एक अमिट छाप छोड़ी है। वह राजनीतिक स्पेक्ट्रम के पार और समाज के सभी वर्गों द्वारा प्रशंसित थे।’

केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह (Amit Shah) ने ट्वीट कर प्रणब मुखर्जी के निधन पर दुख जताया है। गृहमंत्री ने प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए कहा, भारत के पूर्व राष्ट्रपति, भारत रत्न प्रणब मुखर्जी के निधन से गहरा दुख हुआ है। वह बहुत अनुभवी नेता था, जिन्होंने पूरी निष्ठा के साथ देश की सेवा की। प्रणब दा का प्रतिष्ठित करियर पूरे देश के लिए गर्व की बात है।

अमित शाह ने कहा कि प्रणब दा का जीवन हमेशा उनकी त्रुटिहीन सेवा और हमारी मातृभूमि के लिए अमिट योगदान के लिए जाना जाएगा। उनके निधन ने भारतीय राजनीति में एक बहुत बड़ा शून्य छोड़ दिया है। इस अपूरणीय क्षति पर उनके परिवार और अनुयायियों के साथ पूरी ईमानदारी से संवेदना है। शांति,शांति शांति

रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने कहा कि देश के लिए प्रणब मुखर्जी का योगदान अतुलनीय है। उनका निधन मेरे लिए व्यक्तिगत क्षति भी है। उनके पास भारतीय इतिहास, कूटनीति, लोक प्रशासन और रक्षा मामलों का शानदार ज्ञान था। उन्हें समाज के सभी वर्गों से प्रशंसा हासिल थी। राजनाथ सिंह ने कहा कि सार्वजनिक जीवन में उनका योगदान अमूल्य था। उन्होंने देश के लिए परिश्रम और समर्पण के साथ काम किया। प्रणब दा ने चरित्र की सादगी, ईमानदारी पर जोर दिया।

केंद्रीय कानून मंत्री रवि शंकर प्रसाद (Ravi Shankar Prasad) ने ट्वीट कर प्रणब मुखर्जी के निधन पर दुख जताया है।

पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी के निधन पर उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने शोक जताया। सीएम योगी ने ट्वीट कर लिखा, ” पूर्व राष्ट्रपति, भारत रत्न श्री प्रणब मुखर्जी जी का निधन राष्ट्र की अपूरणीय क्षति है। वह सार्वजनिक जीवन में शुचिता, पारदर्शिता एवं स्पष्टवादिता की प्रतिमूर्ति थे।” उन्होंने ने कहा कि परिजनों के प्रति मेरी संवेदनाएं, ईश्वर से प्रार्थना है कि दिवंगत आत्मा को अपने परमधाम में स्थान दें। ॐ शांति!

राहुल, कांग्रेस ने पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी को श्रद्धांजलि दी

कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने भी प्रणब मुखर्जी के निधन पर दुख व्यक्त किया। गांधी ने एक ट्वीट में कहा, “मैं उन्हें श्रद्धांजलि देने के लिए देश में शामिल हुआ। शोक संतप्त परिवार और दोस्तों के प्रति मेरी गहरी संवेदना।”

कांग्रेस ने भी पूर्व राष्ट्रपति के निधन पर शोक व्यक्त किया। पार्टी ने अपने आधिकारिक ट्विटर हैंडल पर कहा, “हम प्रणब मुखर्जी के निधन से बहुत दुखी हैं। भारत के पूर्व राष्ट्रपति और कांग्रेस पार्टी के सबसे बड़े नेताओं में से एक, प्रणब मुखर्जी को हमेशा उनकी अखंडता और करुणा के लिए याद किया जाएगा। हमारी प्रार्थनाएं उनके परिवार, फॉलोअर और राष्ट्र के साथ है।”


कांग्रेस के राष्ट्रीय मीडिया प्रभारी रणदीप सिंह सुरजेवाला ने दिग्गज कांग्रेसी नेता की मौत पर शोक व्यक्त करते हुए कहा, ‘एक युग का अंत हो गया है’।
सुरजेवाला ने ट्वीट किया, “एक युग का अंत। आपके विचारों, यादों और पार्टी के प्रति प्रतिबद्धता, लोगों और देश के प्रति समर्पण ..आपकी आत्मा को शांति मिले प्रणब दा।”

राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने ट्वीट किया, “भारत के पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी के निधन पर गहरा दुख हुआ। राष्ट्र ने एक महान नेता, विचारक और राजनेता को खो दिया है। उनका पूरा जीवन राष्ट्र की सेवा के लिए समर्पित था। उनके परिवार, दोस्तों और समर्थकों के लिए मेरी हार्दिक संवेदनाएं। उनकी आत्मा को शांति मिले।”

Support Newsroompost
Support Newsroompost