Connect with us

देश

Politics: ममता बनर्जी के खिलाफ अब हर सियासी हथियार चलाएगी बीजेपी, प. बंगाल के नेताओं को अमित शाह ने दिए ये निर्देश

उन्होंने पार्टी के कार्यकर्ताओं का आह्वान किया कि वे सड़कों पर उतरें और खुद को जीवंत करें। शाह ने कहा कि पश्चिम बंगाल में बीजेपी के सिर्फ 3 विधायक थे। ये संख्या पिछली बार बढ़कर 77 हो गई। ये छोटी बात नहीं है।

Published

amit shah and mamata

कोलकाता। दो दिन के पश्चिम बंगाल दौरे पर पहुंचे केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह ने सरकारी कामकाज निपटाने के बाद शुक्रवार को बीजेपी के कार्यकर्ताओं में जोश भी भरा। शाह ने बंद कमरे में सभी से बैठक की। सूत्रों के मुताबिक इस बैठक में उन्होंने पार्टी के नेताओं और कार्यकर्ताओं को ममता बनर्जी की सरकार के खिलाफ सड़क पर उतरने और 2024 के लोकसभा चुनाव के लिए पोलिंग स्टेशन के स्तर तक संगठन बनाने के निर्देश दिए। बीजेपी के चाणक्य कहे जाने वाले अमित शाह ने पार्टी कार्यकर्ताओं पर लगातार हमलों और हत्याओं की बात कहते हुए इन घटनाओं से न डरने के लिए भी कहा।

amit shah..

उन्होंने कहा कि हिंसा की हर एक घटना की जिम्मेदारी तय कराई जाएगी। सूत्रों के मुताबिक शाह ने कहा कि गुजरात में जब कांग्रेस की सरकारें थीं, तो उन्हें भी शारीरिक हमलों का सामना करना पड़ा था। 50 से ज्यादा मामलों में उनका नाम डाला गया, लेकिन फिर भी उन्होंने हार नहीं मानी। शाह ने कहा कि बंगाल में सीबीआई हिंसा के 272 मामलों की जांच कर रही है। उन्होंने पार्टी के कार्यकर्ताओं का आह्वान किया कि वे सड़कों पर उतरें और खुद को जीवंत करें। शाह ने कहा कि पश्चिम बंगाल में बीजेपी के सिर्फ 3 विधायक थे। ये संख्या पिछली बार बढ़कर 77 हो गई। ये छोटी बात नहीं है।

सूत्रों का कहना है कि शाह ने उत्तर बंगाल की अपनी यात्रा के दौरान उमड़ी भीड़ का भी जिक्र बैठक में किया। उन्होंने कहा कि इससे साफ पता चलता है कि बीजेपी को यहां की जनता चाहती है। बता दें कि अमित शाह के दौरे के दौरान ही कोलकाता में बीजेपी के कार्यकर्ता अर्जुन चौरसिया की कथित तौर पर हत्या हुई। शाह ने इसे मुद्दा भी बनाया और राजनीतिक हत्या करार दिया। वो अर्जुन के परिवार से भी मिलने गए।

Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement