Om Prakash Rajbhar: आप करें तो रासलीला और हम करें तो.. OP राजभर ने अखिलेश, मायावती पर साधा निशाना

Om Prakash Rajbhar: ओमप्रकाश राजभर ने अखिलेश और मायावती दोनों को आड़े हाथों लेते हुए दोनों को दलितों और पिछड़ी जातियों का सबसे बड़ा दुश्मन बताया। राजभर शुक्रवार के दिन गाजीपुर के दौरे पर गए हुए थे, जहाँ उन्होंने 2000 के नोट के आलावा 500 और 200 के नोट पर भी पाबंदी लगाने की बात तंज कसते हुए कही। ओमप्रकाश राजभर ने ये भी कहा कि केंद्र सरकार को देश में सिर्फ 100 का नोट ही रखना चाहिए। ऐसा होने से भ्रष्टाचार में कमी आएगी। उन्होंने उदाहरण देते हुए कहा, अगर किसी अधिकारी ने दस लाख रूपये की घूस मांगी हो और 100-100 का नोट ही चलन में होगा तो वो इतने भ्रष्टाचार के पैसे को क्या बोरे में भरकर ले जाएगा।

Avatar Written by: May 27, 2023 4:49 pm
omprakash rajbhar

नई दिल्ली। RBI द्वारा 2000 के नोट का सर्क्युलेशन रोकने के फैसले के बाद विपक्ष मोदी सरकार पर हमलावर है। इसको एक और नोटबंदी की तरह विपक्ष मुद्दा बनाने का प्रयास कर रहा है। इसको लेकर देशभर में सियासी बयानबाजी हो रही है। इसी बयानबाजी में अब सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष ओमप्रकाश राजभर भी कूद पड़े हैं। राजभर ने कहा कि मौजूदा समय में देश में देश के भीतर दो हजार के नोट के आलावा जो 500 और 200 के नोट चल रहे हैं केंद्र सरकार उन्हें भी बंद क्यों नहीं कर देती है।

omprakash rajbhar

जानकारी के लिए आपको बता दें कि समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने भी बीजेपी के महाजनसंपर्क अभियान पर सवाल दागे थे। इन सवालों में अखिलेश यादव ने पूछा था कि बीजेपी के तमाम मंत्रियों ने कोई भी काम नहीं किया इसी के चलते बाहर से मंत्रियों को बुला रही है। इस पर ओमप्रकाश राजभर ने अखिलेश पर पलटवार करते हुए कहा कि ‘वो करें तो रासलीला, हम करें तो कैरेक्टर ढीला’ आप तमिलनाडु और बिहार में चुनाव प्रचार करने के लिए क्यों गए थे। जब हम सवाल उठाते है तो आप चिल्लाने लगते हैं कि आपको सलाह की आवश्यकता नहीं है। राहुल गांधी ने कर्नाटक विधानसभा चुनाव में बीजेपी की नकल की और राज्य के भीतर बहुमत की सरकार बनाकर बीजेपी को ही हिला डाला।

omprakash rajbhar

इसके साथ ही ओमप्रकाश राजभर ने अखिलेश और मायावती दोनों को आड़े हाथों लेते हुए दोनों को दलितों और पिछड़ी जातियों का सबसे बड़ा दुश्मन बताया। राजभर शुक्रवार के दिन गाजीपुर के दौरे पर गए हुए थे, जहाँ उन्होंने 2000 के नोट के आलावा 500 और 200 के नोट पर भी पाबंदी लगाने की बात तंज कसते हुए कही। ओमप्रकाश राजभर ने ये भी कहा कि केंद्र सरकार को देश में सिर्फ 100 का नोट ही रखना चाहिए। ऐसा होने से भ्रष्टाचार में कमी आएगी। उन्होंने उदाहरण देते हुए कहा, अगर किसी अधिकारी ने दस लाख रूपये की घूस मांगी हो और 100-100 का नोट ही चलन में होगा तो वो इतने भ्रष्टाचार के पैसे को क्या बोरे में भरकर ले जाएगा।