Connect with us

देश

Indigo: दिव्यांग को फ्लाइट में चढ़ने से रोकना इंडिगो को पड़ा भारी, ठोका गया इतने रुपये का जुर्माना

Indigo: इंडिगो, भारत की ऐसी सबसे बड़ी एयरलाइंस है जो कि सस्ती फ्लाइट सेवा और समयबद्धता को लेकर खासा चर्चा में रहती है। घरेलू एविएशन मार्केट में कंपनी की हिस्सेदारी 50% से अधिक है। उसके बेड़े में 200 से ज्यादा एयरक्राफ्ट हैं। ये कंपनी (इंडिगो) डोमेस्टिक और इंटरनेशनल दोनों रूट्स पर अपनी सर्विसेस की सुविधा लोगों को मुहैया कराती है।

Published

on

Indigo

इंडिगो एयरलाइन के कर्मचारियों ने एक दिव्यांग बच्चे को रांची हवाईअड्डे पर विमान में चढ़ने से रोक दिया था। इस मामले को लेकर इंडिगो की तरफ से जानकारी देते हुए कहा गया था कि बच्चा विमान में यात्रा करने से घबरा रहा था। यही कारण है कि उसे विमान में चढ़ने से रोक दिया। मामले की जांच हुई तो अब IndiGo एयरलाइंस पर बड़ी कार्रवाई हुई है। एविएशन रेग्युलेटर नागर विमानन महानिदेशालय (DGCA) ने कंपनी पर 5 लाख रुपये का जुर्माना लगाया है।

airport indigo

रांची एयरपोर्ट पर घटी थी घटना

मामला 7 मई का है जब इंडिगो ने रांची एयरपोर्ट पर एक दिव्यांग बच्चे को फ्लाइट में चढ़ने से रोक दिया था। इस पर कड़ी कार्रवाई करते हुए डीजीसीए ने एयरलाइंस पर 5 लाख रुपये का जुर्माना लगा दिया है। 5 लाख के जुर्माने के साथ ही डीजीसीए ने कंपनी को कड़ी फटकार भी लगाई है। रेग्युलेटर ने कहा, ‘विशेष परिस्थितियों में असाधारण कदम उठाने होते हैं, लेकिन कंपनी के कर्मचारी सिविल एविएशन रिक्वायरमेंट (रेग्युलेशंस) की भावना और प्रतिबद्धता को नहीं निभा सके और ऐसा करने में विफल रहे। इसे देखते हुए डीजीसीए ने कंपनी पर 5 लाख रुपये का जुर्माना लगाने का फैसला किया है। ये जुर्माना संबंधित एयरक्राफ्ट नियमों के प्रावधानों के तहत लगाया गया है।’

ज्योतिरादित्य सिंधिया ने कही थी ये बात

केंद्रीय नागर उड्डयन एवं विमानन मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया ने मामले में ट्वीट कर लिखा, “इस तरह के बर्ताव हम बिल्कुल बर्दाश्त नहीं करेंगे। किसी भी इंसान को इस तरह के हालात से नहीं गुजरना चाहिए। मैं इस मामले की जांच खुद कर रहा हूं, जिसके बाद उचित कार्रवाई  की जाएगी।”

आपको बता दें, इंडिगो, भारत की ऐसी सबसे बड़ी एयरलाइंस है जो कि सस्ती फ्लाइट सेवा और समयबद्धता को लेकर खासा चर्चा में रहती है। घरेलू एविएशन मार्केट में कंपनी की हिस्सेदारी 50% से अधिक है। उसके बेड़े में 200 से ज्यादा एयरक्राफ्ट हैं। ये कंपनी (इंडिगो) डोमेस्टिक और इंटरनेशनल दोनों रूट्स पर अपनी सर्विसेस की सुविधा लोगों को मुहैया कराती है।

Advertisement
Advertisement
Advertisement