गरीबों के लिए 1.70 लाख करोड़ के पैकेज का जेपी नड्डा ने किया स्वागत

भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा ने इस पैकेज का स्वागत करते हुए कहा कि संकट की इस घड़ी में देश के गरीबों के कल्याण के लिए 1,70,000 करोड़ रुपये के राहत पैकेज के जरिए प्रधानमंत्री लगातार सुनिश्चित कर रहे हैं कि आपदा की इस विषम परिस्थितियों में देश का कोई भी गरीब भूखा न सोए। नड्डा ने इस पैकेज से देश की जनता को पहुंचने वाले कई फायदे गिनाए।

Written by: March 26, 2020 7:06 pm

नई दिल्ली। कोरोनावायरस के कारण देश में लॉकडाउन के कारण गरीबों की परेशानी दूर करने के लिए केंद्र सरकार ने गुरुवार को एक लाख 70 हजार करोड़ रुपये के राहत पैकेज की घोषणा की। वित्तमंत्री निर्मला सीतारमण और राज्य मंत्री अनुराग ठाकुर ने प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना नामक इस राहत पैकेज का ऐलान किया।

Finance Minister Nirmala Sitharaman

भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा ने इस पैकेज का स्वागत करते हुए कहा कि संकट की इस घड़ी में देश के गरीबों के कल्याण के लिए 1,70,000 करोड़ रुपये के राहत पैकेज के जरिए प्रधानमंत्री लगातार सुनिश्चित कर रहे हैं कि आपदा की इस विषम परिस्थितियों में देश का कोई भी गरीब भूखा न सोए। नड्डा ने इस पैकेज से देश की जनता को पहुंचने वाले कई फायदे गिनाए।

JP_Nadda

भाजपा अध्यक्ष जेपी नड्डा ने कहा कि इस संकट की घड़ी में अपना सब कुछ छोड़कर हमारी सेवा में लगे स्वास्थ्यकर्मियों के लिए सरकार ने 50 लाख के स्वास्थ्य बीमा की घोषणा की है। इससे 20 लाख लोग लाभान्वित होंगे। संगठित क्षेत्र में काम करने वाले कर्मचारियों को भी पैकेज से काफी फायदा पहुंचेगा।

उन्होंने कहा, सरकार अगले 3 महीने तक संगठित क्षेत्र के लिए इम्प्लॉई प्रोविडेंट फंड में कर्मचारी और नियोक्ता, दोनों का पूरा योगदान खुद देगी। यानी ईपीएफ में पूरा 24 प्रतिशथ योगदान केंद्र सरकार देगी।

jp nadda

नड्डा ने बताया कि पीएफ फंड रेग्युलेशन में संशोधन के तहत जमा रकम का 75 या 3 महीने के वेतन में से जो भी कम होगा, कामगार उसे निकाल सकेंगे। यह वहां लागू होगा जहां 100 से कम कर्मचारी हैं और 90 प्रतिशत कर्मचारी 15 हजार से कम वेतन पाते हैं। देशभर के 80 लाख से ज्यादा कर्मचारी और 4 लाख से ज्यादा संस्थान इससे लाभान्वित होंगे।

उन्होंने राहत पैकेज में किसानों के लिए भी बंदोबस्त होने का हवाला देते हुए बताया कि किसानों को डीबीटी के तहत अप्रैल के पहले हफ्ते प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि की 2,000 रुपये की किस्त दी जाएगी। इससे लगभग 8.69 करोड़ किसानों को लाभ पहुंचेगा। 20 करोड़ महिला जन-धन खाताधारकों को अगले तीन महीने तक 500 रुपये हर महीने दिए जाएंगे।