Congress: ‘आइटम’ ने बढ़ा दी कमलनाथ की मुश्किलें, चुनाव आयोग ने मांगी रिपोर्ट

Kamalnath: कांग्रेस(Congress) के कद्दावर नेता कमलनाथ(Kamalnath) इमरती देवी पर बयान देकर बुरी तरह घिरते जा रहे हैं। अब चुनाव आयोग ने मध्य प्रदेश(Madhya Pradesh) के मुख्य निर्वाचन अधिकारी से विस्तृत रिपोर्ट मांगी है।

Avatar Written by: October 20, 2020 2:19 pm
Imrati Devi KAMALNATH

नई दिल्ली। मध्य प्रदेश में होने वाले उप चुनाव के बीच कमलनाथ के आइटम वाले बयान को लेकर जहां कांग्रेस चोरों तरफ से घिरी हुई है वहीं चुनाव आयोग ने कमलनाथ की मुश्किलें और बढ़ा दी हैं। बता दें कि कांग्रेस के कद्दावर नेता कमलनाथ इमरती देवी पर बयान देकर बुरी तरह घिरते जा रहे हैं। अब चुनाव आयोग ने मध्य प्रदेश के मुख्य निर्वाचन अधिकारी से विस्तृत रिपोर्ट मांगी है। चुनाव आयोग द्वारा रिपोर्ट मांगे जाने को लेकर आयोग के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि मध्य प्रदेश के मुख्य निर्वाचन अधिकारी से इस पूरे मामले की विस्तृत रिपोर्ट मांगी गई है। बताया जा रहा है कि इस मामले में मंगलवार को रिपोर्ट मिलने की संभावना है। कमलनाथ पर कार्रवाई को लेकर इसी रिपोर्ट के आधार पर चुनाव आयोग अपना फैसला लेगा। हालांकि चुनाव आयोग की ये पहल कमलनाथ की तरफ से अपने बयान पर माफी मांगने के बाद सामने आई है। कमलनाथ ने कहा था कि अगर उनके बयान से किसी को ठेस पहुंची हो, बयान किसी को असम्मानित लगा हो तो खेद है।

Kamalnath Rahul

दरअसल रविवार को इमरती देवी के खिलाफ डबरा विधानसभा सीट से चुनाव लड़ रहे कांग्रेस प्रत्याशी सुरेश राजे के लिए चुनाव प्रचार करते हुए कमलनाथ ने कहा, “हमारे उम्मीदवार सीधे सरल स्वभाव के हैं, उसके जैसे नहीं है, उसका क्या नाम है (जनता की आवाज आई इमरती देवी), मैं उसका नाम क्या लूं, मुझ से ज्यादा आप उसे पहचानते हैं। आप तो मुझे उससे पहले ही सावधान कर देते। ये क्या आइटम है।”

इस बयान के बाद इमरती देवी काफी आहत हुईं और मीडिया को अपना बयान देते हुए रोती हुई देखी गईं थी। कमलनाथ के विवादित बयान पर इमरती देवी ने कहा था कि अगर मैं गरीब परिवार में पैदा हुई तो मेरी क्या गलती है? अगर मैं दलित हूं तो मेरी क्या गलती है? उन्होंने कहा, “मैं सोनिया गांधी से अपील करना चाहती हूं कि ऐसे लोगों को अपनी पार्टी में न रखें। वह भी एक मां हैं। अगर महिलाओं के लिए इस तरह के शब्दों का इस्तेमाल किया जाएगा तो कोई भी महिला कैसे आगे बढ़ सकती है?

Imrati devi crying

मीडिया से बातचीत करते हुए इमरती देवी रुआंसी हो गईं थी। उन्होंने कहा, “अगर गरीब को पैदा होना इतना ही कसूरवार होता है तो शायद मैं सोचती हूं कि कमलनाथ ने जो बात कही है तो हमारी हिंदुस्तान की, मध्य प्रदेश की एक भी महिला एससी दलित की बाहर नहीं निकलेगी।”