क्या सच में मास्क नहीं पहनने पर बकरे को कानपुर पुलिस ने किया ‘गिरफ्तार’, सच्चाई आई सामने

गौरलतब है कि इस खबर को लेकर ये भी कहा जा रहा है कि, कानपुर में रविवार को बेकनगंज इलाके में एक लावारिस बकरा सड़क पर टहल रहा था। बकरीद का समय है इसलिए हर बकरे की इस समय कीमत है।

Avatar Written by: July 27, 2020 12:59 pm

नई दिल्ली। विकास दुबे के एनकाउंटर के बाद से ही यूपी की कानपुर पुलिस की चर्चा जोरों पर है। एक बार फिर कानपुर पुलिस सुर्खियों में है लेकिन इस बार वजह एक बकरा है। बता दें कि सड़क पर घूम रहे आवारा बकरे को पुलिस जीप में भर थाने ले आई। इसका वीडियो भी सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है। इस वीडियो के साथ कहा जा रहा है कि पुलिस ने बकरे को मास्क ना लगाने के आरोप में गिरफ्तार किया है।

Kanpur Police

बता दें कि बताया जा रहा है कि, कानपुर पुलिस ने बेकनगंज क्षेत्र में घूम रही बकरी को ‘गिरफ्तार’ कर लिया, क्योंकि बकरी ने मास्क नहीं पहना था।हालांकि जब बकरी के मालिक को पता चला तो, वह पुलिस स्टेशन पहुचा। बकरी मालिक ने पुलिस से गुहार लगाई और पुलिस ने आखिरकार बकरी को रिहा कर दिया यह कहते हुए कि वह जानवर को सड़क पर न घूमने दे।

Kanpur Police Goat

इस मामले को लेकर अनवरगंज पुलिस स्टेशन की तरफ से कहा गया कि पुलिस ने एक युवक को बिना मास्क के पाया और बकरी को साथ ले आए। उन्होंने कहा, “जब बिना मास्क के युवक ने पुलिस को देखा तो, वह बकरी छोड़कर भाग गया। पुलिसवालों ने बकरी को पुलिस स्टेशन ले आए। बाद में, हमने बकरी को उसके मालिक को सौंप दिया।”

फिलहाल बकरी लाने वाले पुलिसकर्मियों में से एक ने स्वीकार किया कि उन्होंने लॉकडाउन के उल्लंघन में बकरी को गिरफ्तार किया। क्योंकि उसने मास्क नहीं पहन रखा था। उन्होंने कहा, “लोग अब अपने कुत्तों को मास्क पहनाने लगे हैं तो बकरी को क्यों नहीं।” हालांकि, सोशल मीडिया पर इसका मजाक बनने के बाद पुलिस ने अपना बयान बदल दिया।

गौरलतब है कि इस खबर को लेकर ये भी कहा जा रहा है कि, कानपुर में रविवार को बेकनगंज इलाके में एक लावारिस बकरा सड़क पर टहल रहा था। बकरीद का समय है इसलिए हर बकरे की इस समय कीमत है। लोगों ने इसकी सूचना बेकनगंज पुलिस को दे दी और पुलिस बकरे को थाने ले गई।