newsroompost
  • youtube
  • facebook
  • twitter

West Bengal: अधीर को खड़गे की चेतावनी से बंगाल में खिंची सियासी तलवार, कांग्रेस अध्यक्ष के पोस्टर पर कार्यकर्ताओं ने पोती कालिख

West Bengal: अधीर रंजन चौधरी से जब खड़गे के बयान के बारे में पूछा गया तो उन्होंने कहा कि वह किसी ऐसे व्यक्ति का समर्थन नहीं कर सकते जिसका लक्ष्य बंगाल में उन्हें और पार्टी को राजनीतिक रूप से खत्म करना है। उन्होंने जोर देकर कहा कि यह प्रत्येक कांग्रेस कार्यकर्ता की लड़ाई है और उन्होंने उनकी ओर से बात की है।

नई दिल्ली। कोलकाता में कांग्रेस अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खड़गे और बंगाल कांग्रेस प्रमुख अधीर रंजन चौधरी के बीच टीएमसी के साथ पार्टी के संबंधों को लेकर विवाद के बीच, प्रदेश कांग्रेस भवन में खड़गे की तस्वीरों को काली स्याही से विरूपित किया गया। कोलकाता में विधान भवन के सामने खड़गे समेत प्रमुख कांग्रेस नेताओं की तस्वीर वाले कई होर्डिंग लगे हुए हैं। रविवार को इन होर्डिंग्स पर खड़गे की तस्वीरों पर स्याही पोत दी गई, जबकि सोनिया गांधी और राहुल गांधी की तस्वीरें अछूती रहीं। इसका पता चलने पर कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने तुरंत विरूपित होर्डिंग और बैनर हटा दिए।

विवाद तब शुरू हुआ जब ममता बनर्जी ने हाल ही में एक सार्वजनिक रैली में कहा कि अगर केंद्र में सत्ता में आई तो वह इंडिया ब्लॉक सरकार को बाहर से समर्थन देंगी। इसके जवाब में अधीर रंजन चौधरी ने टिप्पणी की कि ममता बनर्जी पर भरोसा नहीं किया जा सकता क्योंकि वह बीजेपी के साथ जा सकती हैं। इस बारे में पूछे जाने पर कांग्रेस अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खड़गे ने पुष्टि की कि ममता बनर्जी गठबंधन के साथ जुड़ी हुई हैं और उन्होंने सरकार में शामिल होने का इरादा बताया है। खड़गे ने इस बात पर जोर दिया कि अधीर रंजन चौधरी नहीं बल्कि वह और पार्टी आलाकमान निर्णय लेंगे और जो असहमत हैं उन्हें जाना होगा।

अधीर रंजन चौधरी से जब खड़गे के बयान के बारे में पूछा गया तो उन्होंने कहा कि वह किसी ऐसे व्यक्ति का समर्थन नहीं कर सकते जिसका लक्ष्य बंगाल में उन्हें और पार्टी को राजनीतिक रूप से खत्म करना है। उन्होंने जोर देकर कहा कि यह प्रत्येक कांग्रेस कार्यकर्ता की लड़ाई है और उन्होंने उनकी ओर से बात की है। चौधरी ने कहा कि ममता बनर्जी के प्रति उनका विरोध उनके सैद्धांतिक रुख से उपजा है, व्यक्तिगत हित से नहीं। उन्होंने स्पष्ट किया कि उनके मन में उनसे कोई व्यक्तिगत शिकायत नहीं है, लेकिन उनकी राजनीतिक नैतिकता पर सवाल हैं।

ADHIR

ममता बनर्जी ने कहा था कि अगर लोकसभा चुनाव के बाद इंडिया ब्लॉक सरकार बनाती है तो उनकी पार्टी इस सरकार को बाहर से समर्थन देगी। उन्होंने कहा कि भाजपा का दावा है कि वह 400 सीटें जीतेगी, लेकिन लोगों का मानना कुछ और है। बनर्जी ने आश्वासन दिया कि टीएमसी एक राष्ट्रीय सरकार के गठन का समर्थन करेगी जो यह सुनिश्चित करेगी कि बंगाल में माताओं और बहनों के लिए कोई समस्या न हो और 100-दिवसीय नौकरी योजना में प्रतिभागियों को किसी भी बाधा का सामना न करना पड़े।