खुदीराम बोस के गांव पहुंचे अमित शाह, अपने बीच गृह मंत्री को देख भावुक हो गए परिजन और कहा ‘कभी नही मिला इतना सम्मान’

Amit Shah Bengal Visit: साल 2021 में पश्चिम बंगाल (West Bengal) में विधानसभा चुनाव होने वाले है। ऐसे में बंगाल में ममता के गढ़ में सेंध लगाने के लिए भारतीय जनता पार्टी (BJP) ने अपनी पूरी ताकत झोंक दी है। इसी कड़ी में दो दिवसीय दौरे पर केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह (Union Home Minister Amit Shah) शनिवार को पश्चिम बंगाल पहुंचे।

Avatar Written by: December 19, 2020 2:43 pm

नई दिल्ली। साल 2021 में पश्चिम बंगाल (West Bengal) में विधानसभा चुनाव होने वाले है। ऐसे में बंगाल में ममता के गढ़ में सेंध लगाने के लिए भारतीय जनता पार्टी (BJP) ने अपनी पूरी ताकत झोंक दी है। इसी कड़ी में दो दिवसीय दौरे पर केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह (Union Home Minister Amit Shah) शनिवार को पश्चिम बंगाल पहुंचे। अमित शाह आज सबसे पहले पश्चिमी मिदनापुर गए। यहां उन्होंने स्वतंत्रता संग्राम में देश के लिए शहादत देने वाले क्रांतिकारी खुदीराम बोस (Khudiram Bose) की जन्मस्थली पर जाकर उन्हें श्रद्धांजलि दी। इसके बाद गृहमंत्री अमित शाह ने खुदीराम बोस के परिजनों से मुलाकात की और उनका सम्मान किया।

amit shah fi

मीडिया से बात करते हुए अमित शाह ने कहा कि वीर शहीद खुदीराम बोस के जन्मस्थान पर आकर यहां की मिट्टी को कपाल पर लगाने का सौभाग्य मिला। स्वतंत्रता संग्राम में बंगाल और बंगाली सपूतों का योगदान भारत कभी भूला नहीं सकता और खुदीराम बोस इसी परंपरा के वाहक थे।

वहीं इस मुलाकात के बाद खुदीराम बोस के परिवार के सदस्य गोपाल बसु ने कहा कि, भाजपा ने हमें थोड़ी श्रद्धा दी है। किसी भी पिछली सरकार ने हमें इस तरह का सम्मान नहीं दिया। तृणमूल कांग्रेस (TMC) भी नहीं।

ममता सरकार पर निशाना साधते हुए अमित शाह ने कहा कि, बंगाल के अंदर जो ओछी राजनीति करते हैं मैं उनको बताने आया हूं कि खुदीराम बोस जितने बंगाल के थे, उतने ही पूरे भारत के थे और पंडित राम प्रसाद बिस्मिल जितने UP के थे उतने ही बंगाल के थे। भारत की आज़ादी के लिए लड़ने वालों ने कभी इस प्रकार की ओछी राजनीति की कल्पना नहीं की होगी।

Support Newsroompost
Support Newsroompost