सिसोदिया के ओएसडी ने जमानत के लिए याचिका दायर की

जमानत याचिका में लिखा है, “इस तरह के किसी आरोप से आरोपी को जोड़ने का भी प्रथमदृष्ट्या कोई सबूत नहीं है।” माधव ने कहा कि कथित कबूलनामे से पहले उनकी तरफ से किसी रिश्वत की मांग न होना इस मामले में दर्ज प्राथमिकी रद्द करने के लिए पर्याप्त है।

Written by: February 14, 2020 9:39 pm

नई दिल्ली। दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया के ओएसडी गोपाल कृष्ण माधव ने यहां की एक अदालत में शुक्रवार को जमानत याचिका दायर की, जिसे ठुकराते हुए विशेष न्यायाधीश संतोष स्नेही मान ने उन्हें 14 दिनों की न्यायिक हिरासत में भेज दिया। ओएसडी पर रिश्वतखोरी का आरोप है। केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) ने माधव को पांच फरवरी को दो लाख रुपये रिश्वत लेने के आरोप में गिरफ्तार किया था।

manish sisodiya
दिल्ली कर विभाग के वरिष्ठ अधिकारी ने अपनी जमानत याचिका में कहा कि सीबीआई ने उन्हें सात दिनों तक अपनी हिरासत में रखा और सारे सबूत जुटा लिए। अब इस बात की कोई संभावना नहीं है कि वह सुनवाई से भागेंगे या जांच प्रभावित करेंगे।

manish sisodiya new
उन्होंने कहा कि उन्हें मामले में झूठा फंसाया गया है। जमानत याचिका में लिखा है, “इस तरह के किसी आरोप से आरोपी को जोड़ने का भी प्रथमदृष्ट्या कोई सबूत नहीं है।” माधव ने कहा कि कथित कबूलनामे से पहले उनकी तरफ से किसी रिश्वत की मांग न होना इस मामले में दर्ज प्राथमिकी रद्द करने के लिए पर्याप्त है।