लॉकडाउन 5.0 नहीं अनलॉक-1 कहिए जनाब, सरकार ने जारी किया निर्देश जानिए कितनी मिलेगी छूट

क्या लॉकडाउन 4.0 के बाद अब लॉकडाउन 5.0 भी होगा? होगा तो कैसा होगा? पाबंदियों में कुछ और छूट मिलेगी या फिर सख्ती का दायरा यही रहेगा? इन सवालों को लेकर तरह-तरह की अटकलें लगाई जा रही थी।

Written by: May 30, 2020 7:17 pm

नई दिल्ली। क्या लॉकडाउन 4.0 के बाद अब लॉकडाउन 5.0 भी होगा? होगा तो कैसा होगा? पाबंदियों में कुछ और छूट मिलेगी या फिर सख्ती का दायरा यही रहेगा? इन सवालों को लेकर तरह-तरह की अटकलें लगाई जा रही थी। लेकिन अब केंद्रीय गृह मंत्रालय की तरफ से इसको लेकर अधिसूचना जारी कर दी गई है। जिसमें स्पष्ट तौर पर बता दिया गया है कि लॉकडाउन 5.0 कैसा होगा और कितने दिनों का होगा।

Lockdown

अब गृह मंत्रालय की तरफ से जारी अधिसूचना की मानें तो लॉकडाउन 5.0 में कंटेनमेंट जोन में यह लॉकडाउन 30 जून तक जारी रहेगा। बाकि के इलाकों में स्थिति को सामान्य बनाए रखने के लिए कई जरूरी सेवाओं को शुरू करने की बात कही गई है। जनजीवन कैसे सामान्य हो इसके लिए भी पूरी व्यवस्था इस आदेश में की गई है।

मतलब साफ है कि अब ये लॉकडाउन 1 जून से 30 जून तक लागू रहेगा। शर्तों के साथ धार्मिक स्थलों को खोलने को भी मंजूरी मिल गई है। रात 9 बजे से सुबह 5 बजे तक कर्फ्यू जारी रहेगा। लॉकडाउन-5 को अनलॉक-1 का नाम दिया गया है। सरकार की तरफ से जारी आदेश में कहा गया कि होटल और रेस्टूरेंट 8 जून से खुलेंगे। ऐसे में 30 जून तक नाइट कर्फ्यू जारी रहेगा। 8 जून से शर्तों के साथ धार्मिक स्थल खोलने की इजाजत भी दे दी गई है।

lockdown 4

वहीं इसमें भी सामाजिक आयोजनों पर पाबंदी जारी रहेगी। 8 जून से शॉपिंग मॉल खोलने की बाद कही गई है। वहीं इसमें कहा गया है कि सिनेमाघर खोलने का फैसला जुलाई में लिया जाएगा। इस लॉकडाउन को कई फेजों में बांटा गया है ऐसे में कहा गया है कि फेज-3 में मेट्रो खोलने का फैसला होगा तो वहीं जुलाई में स्कूल खोलने का फैसला होगा।

इससे पहले केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने लॉकडाउन 5.0 की रूपरेखा को लेकर संकेत दे दिया था। उन्होंने कहा था कि लॉकडाउन 5.0 तो होगा, लेकिन पाबंदियां काफी हद तक कम हो जाएंगी।

karnataka lockdown

प्रकाश जावड़ेकर ने एक न्यूज चैनल से बातचीत के दौरान कहा था कि लॉकडाउन 5.0 बिल्कुल साधारण होगा। उन्होंने कहा था कि, ‘इसमें कुछ ही इलाकों में पाबंदियां लगाई जाएंगी। बाकी जन जीवन को खोल दिया जाएगा।’ उन्होंने कहा था कि मौजूदा परिस्थिति हमेशा नहीं रहेगी। लोगों को काफी हद तक छूट दे दी गई है और अब उम्मीद है कि सामान्य जीवन होगा।