Connect with us

देश

Ramayana Quiz: नफरत की फैक्ट्री चलाने वालों को इन मुस्लिम युवकों ने दिया मुंहतोड़ जवाब, इस्लामिक स्ट्डीज में पढ़ने वाले छात्रों ने सुनाया रामायण का श्लोक

Published

on

नई दिल्ली। नफरत की फैक्ट्री चलाने वाले कट्टरपंथियों को दो मुस्लिम युवकों ने दिया मुंहतोड़ जवाब… भगवान राम के नाम पढ़े तारीफ में कसीदे……जी हां…जो भी सुन रहे हैं आप…बिल्कुल सही सुन रहे हैं… परोक्ष रूप से ही सही… लेकिन इन युवकों ने महाकाव्य रामायण का सहारा लेकर समाज को बांटने वाले कट्टरपंथियों की ना महज बोलती बंद की है, बल्कि उन्हें हद में रहने की भी हिदायत दी है और उन्हें चेता दिया है कि मजहब के नाम पर देश को बांटने की नापाक कोशिशों को विराम दें। चलिए, अब आपको इन दो युवकों के बारे में तफसील से बताते हैं। मौलवियों द्वारा निकाले गए फतवों की परवाह किए बगैर मलप्पुरम के दो मुस्लिम छात्र मोहम्मद जाबिर पीके और मोहम्मद बसीथ एम ने रामायण प्रतियोगिता में अद्भुत, अकल्पनीय और अविस्मरणीय सफलता हासिल की है, जिसकी चौतरफा प्रशंसा की जा रही है। मुस्लिम संपद्राय से रहने के बावजूद भी रामायण के प्रति इन छात्रों के ज्ञान ने सभी को आश्चर्यचकित कर दिया। इस प्रतियोगिता में 1 हजार से भी ज्यादा छात्रों ने देश के विभिन्न राज्यों ने हिस्सा लिया था लेकिन इन दोनों ही मुस्लिम छात्रों द्वारा सुनाए गए श्लोक ने सभी को उनका मुरीद बना दिया और इसके साथ ही उन कट्टरपंथियों को भी करारा जवाब दे डाला है, जो मजहब के नाम पर कभी ओछी सियासत करने आ जाते हैं, तो कभी समाज में नफरत का सैलाब बहाने पर उतारू हो जाते हैं।

आपको बता दें कि ये दोनों ही छात्र केकेएचएम इस्लामिक एंड आर्ट्स कॉलेज वालेंचेरी में इस्लामिक स्ट्डीज की पढ़ाई करते हैं। दोनों युवा का रामायण में से पसंदीदा श्लोक अयोध्याकांड है जिसमें लक्ष्मण के क्रोध और प्रभु श्रीराम की ओर से अपने भाई को दी जा रही सांत्वना का जिक्र है। इसमें भगवान राम राज्य और शक्ति की निरर्थकता के बारे में बता रहे हैं। मोहम्मद जबीर और मोहम्मद बशीथ दोनों कॉलेज के दोस्त हैं। ये दोनों ही ना महज मुस्लिम अपितु हर धर्म की जानकारी रखते हैं। धार्मिक ग्रंथों के प्रति इनकी रुची शुरू से ही रही है। वहीं, अभी स्थानीय मीडिया में इनकी खूब चर्चा हो रही है। लोग इनकी तारीफ को पुल बांध रहे हैं।

बहुत कम लोग जानते हैं भगवान श्रीराम के जीवन से जुड़ी ये 10 रोचक बातें | Know the 10 interesting facts about Shri Ram KPI

इसके साथ ही मोहम्मद जबीर कट्टरपंथियों को करारा जवाब देते हुए कहते हैं कि देश के प्रत्येक नागरिक को महाकाव्य का अध्ययन करना चाहिए। इसके मानसिक बुद्धि का विकास होता है। इसके साथ ही उन्होंने भगवान राम की तारीफ की भी तारीफ की, जिसमें उऩ्होंने कहा कि राम को अपने पिता से किए वादे को पूरा करने के लिए अपने राज्य का त्याग करना पड़ा। सत्ता के अंतहीन संघर्षों के दौर में रहते हुए हमें राम जैसे पात्रों और रामायण जैसे महाकाव्यों से प्रेरणा लेनी चाहिए। फिलहाल, अभी दोनों ही मुस्लिम युवाओं के नाम तारीफ के कसीदे पढ़े जा रहे हैं।

Advertisement
Continue Reading
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Advertisement
देश39 mins ago

Ankita Bhandari: अंकिता के पिता ने खुद बताया, जब पहुंचे थे बेटी की गुमशुदगी की शिकायत कराने थाने, तो आरोपी पुलकित ने की थी हाथापाई, फिर..

Rahul Gandhi and Ashok Gehlot
देश46 mins ago

Video: राजस्थान में गिर सकती है कांग्रेस सरकार!, CM गहलोत के सलाहकार संयम लोढ़ा का बड़ा बयान

खेल1 hour ago

IND vs AUS 3rd T20I: ऑस्ट्रेलिया को फाइनल मुकाबले में हराकर इतिहास रचने को तैयार हिंदुस्तानी चीते, तोड़ेंगे पाकिस्तानियों का रिकार्ड

मनोरंजन1 hour ago

Shah Rukh Khan: शाहरुख खान ने Twitter पर डाली शर्टलेस फोटो, इंटरनेट पर मचा बवाल, लोगों ने ऐसे दिए रिएक्शन

देश2 hours ago

Rajbhar: ‘6 करोड़ रुपए लेकर मुख्तार अंसारी के बेटे को दिया था टिकट’, राजभर पर उनकी ही पार्टी के नेता ने लगाया ये सनसनीखेज आरोप

मनोरंजन3 weeks ago

Boycott Brahmastra: अब होगा ब्रह्मास्त्र का बॉयकॉट और तेज़ क्योंकि Karan Johar के प्रोडक्शन हाउस की कर्मचारी ने राइट विंग के लोगों पर की अभद्र टिप्पणी

Ranbir Kapoor
मनोरंजन2 weeks ago

Ranbir Kapoor On Shamshera: बायकॉट ट्रेंड पर रणबीर कपूर ने पहली बार तोड़ी चुप्पी, कहा- ‘अगर कोई फिल्म नहीं चलती तो इसका मतलब…’

मनोरंजन3 weeks ago

Sita Ramam Movie Review: कार्तिकेय 2 के बाद अब सीता राम की कहानी पर बनी ये फ़िल्म छा गई, जीत लिया लोगों का दिल

मनोरंजन3 weeks ago

Boycott Bollywood: Laal Singh Chaddha, और Liger की फ्लॉप से अब सिनेमाघर के मालिक का फूटा गुस्सा, उठा लिया ये बड़ा कदम

मनोरंजन4 weeks ago

Boycott Brahmastra: ब्रह्मास्त्र का इन कारणों से विरोध हुआ है तेज़, लोग कह रहे ऐसे देश विरोधी और हिन्दू विरोधी की फिल्म बॉयकॉट करो

Advertisement