Connect with us

देश

Delhi: दिल्ली सरकार की बढ़ी टेंशन, बच्चों के जमावड़े को लेकर NCPCR ने जताई चिंता, दिए ये निर्देश

Delhi: राजधानी में कोरोना के बढ़ते हुए मामलों को दरकिनार करते हुए केजरीवाल सरकार ने बड़े पैमाने में कार्यक्रम का आयोजन किया। जिसमें कोरोना नियमों का पालन नहीं किया। इसको लेकर पुष्कर नाम के एक शख्स ने दिल्ली सरकार के खिलाफ राष्ट्रीय बाल अधिकार संरक्षण आयोग यानी एनसीपीसीआर से शिकायत की है। साथ ही में बच्ची के जमावड़े को लेकर दिल्ली सरकार के खिलाफ कार्रवाई करने की भी मांग की है।

Published

नई दिल्ली। बीते कुछ दिनों से राजधानी दिल्ली में कोरोना के बढ़ते हुए मामलों ने फिर से टेंशन बढ़ा दी है। इसके अलावा दिल्ली में मंकीपॉक्स के मामले को देखते हुए सरकार ने अलर्ट जारी किया है। लेकिन इसी बीच दिल्ली की केजरीवाल सरकार एक बार फिर विवादों में फंस गई है। दरअसल देश की आजादी की 75वीं वर्षगांठ के मौके पर दिल्ली में 3 और 4 अगस्त को विश्व कीर्तिमान स्थापित करने के लिए तिरंगा झंडा बनाने के लिए कार्यक्रम का आयोजन बुराड़ी में किया गया। यह दिल्ली टूरिज्म और दिल्ली सरकार के तत्वाधान में दिल्ली के सरकारी स्कूलों के 52,000 बच्चों के द्वारा किया गया।

 

राजधानी में कोरोना के बढ़ते हुए मामलों को दरकिनार करते हुए केजरीवाल सरकार ने बड़े पैमाने में कार्यक्रम का आयोजन किया। जिसमें कोरोना नियमों का पालन नहीं किया। इसको लेकर पुष्कर नाम के एक शख्स ने दिल्ली सरकार के खिलाफ राष्ट्रीय बाल अधिकार संरक्षण आयोग यानी एनसीपीसीआर से शिकायत की है। साथ ही में मानव तिरंगा बनाने के लिए बच्चों के जमावड़े को लेकर दिल्ली सरकार के खिलाफ कार्रवाई करने की भी मांग की है।

शख्स का कहना है कि बच्चों के स्वास्थ्य खतरे को ध्यान में रखते हुए सावधानी बरतने की सलाह दी थी मगर उनका पालन नहीं किया गया है। जिसके बाद एनसीपीसीआर ने इस मामले में स्वंत: संज्ञान लिया है। आयोग ने मामले में द‍िल्‍ली के चीफ सेक्रेटरी नरेश कुमार (Chief Secretary Naresh Kumar) को चिट्ठी लिखा है। इस पत्र में लिखा है कि कोरोना के बढ़ते मामलों के बीच दिल्ली के सरकारी स्कूलों के 50,000 से अधिक बच्चों के एकत्र होने की शिकायत मिली है। इस दौरान बच्चों का ध्यान और बच्चों के अधिकारों का हनन किया है। ऐसे में अब दिल्ली सरकार की टेंशन बढ़ती दिखाई दे रही है।

Advertisement
Advertisement
Advertisement