पुलवामा आतंकी हमले में NIA को मिली बड़ी कामयाबी, मोहम्मद इकबाल चढ़ा एजेंसी के हत्थे

एनआईए 14 फरवरी 2019 को हुए पुलवामा हमले की जांच कर रही है। जांच के दौरान पहले ही इस मामले में कई आरोपियों को पकड़ा जा चुका है।

Written by: July 2, 2020 8:35 pm

नई दिल्ली। 2019 में पुलवामा में सीआरपीएफ काफिले पर हुए हमले की जांच कर रही एनआईए के हाथ गुरुवार को बड़ी कामयाबी लगी है। बडगाम के रहने वाले आरोपी मोहम्मद इकबाल राथर को गिरफ्तार किया गया है। आरोपी को गिरफ्तार करने के बाद कोर्ट में पेश किया गया जहां से उसे सात दिनों की रिमांड पर भेजा गया है।

NIA Pulwama Mohammad Iqbal Rathar

एनआईए ने इस पूरे मामले में एक और आरोपी को गिरफ्तार किया। उसने हमला करने में शामिल आतंकियों की मदद की थी और घुसपैठ के बाद उन्हें साउथ कश्मीर पहुंचाया था। आरोपी को गिरफ्तार करने के बाद कोर्ट में पेश किया गया जहां से उसे सात दिनों की रिमांड पर भेजा गया है।

एनआईए 14 फरवरी 2019 को हुए पुलवामा हमले की जांच कर रही है। जांच के दौरान पहले ही इस मामले में कई आरोपियों को पकड़ा जा चुका है। गुरुवार को इस मामले में एनआईए को एक और कामयाबी हाथ लगी। बडगाम के रहने वाले आरोपी मोहम्मद इकबाल राथर को गिरफ्तार किया गया है। उसने इस हमले के मुख्य आरोपी मोहम्मद उमर फारूक की मदद की थी।

एनआईए के मुताबिक, आरोपी से पूछताछ में पता चला है कि वह पाकिस्तान में बैठे जैश के कमांडरों के संपर्क में था। उनके इशारे पर ही घुसपैठ करने के बाद उसने फारूक को साउथ कश्मीर में पहुंचाया। उसके बाद आईईडी को कार में लगाने से लेकर उसे हाइवे पहुंचाने तक पूरी मदद की।

pulwama attack

आरोपी को सात दिनों की रिमांड पर लिया गया है। अब एनआईए उससे बाकी बातों का पता लगाने वाली है। ताकि इस हमले में बाकी लोगों के रोल का पता किया जा सके। बता दें कि राथर पहले भी जैश आतंकियों की मदद करने के मामले में जेल जा चुका है। तब भी उसे एनआईए ने ही पकड़ा था।