खुल गई पोल, नीरव मोदी के पक्ष में कांग्रेस नेता ने दी गवाही, भाजपा ने घेरा

रविशंकर प्रसाद ने नीरव मोदी के कांग्रेस लिंक पर खुलासा करते हुए कहा कि खुद राहुल गांधी 2013 में नीरव मोदी के एक कार्यक्रम में शामिल हुए थे। उन्होंने कहा कि अब रिटायर्ड जस्टिस अभय थिप्से भी नीरव मोदी के समर्थन में आ गए हैं।

Written by: May 14, 2020 1:19 pm

नई दिल्ली। एक तरफ जहां मोदी सरकार भगोड़े हीरा कारोबारी नीरव मोदी को भारत लाने के लिए हरममुकिन कोशिश में जुटी हुई है। दूसरी ओर कांग्रेस नेता अभय थिप्से ने नीरव मोदी के बचाव में गवाही दी है, जिसके बाद कांग्रेस का दोहरा चरित्र सबके सामने आ गया है। वहीं भाजपा ने इस मामले पर कांग्रेस को घेरते हुए राहुल गांधी को निशाने पर लिया है।

Abhay Thipsay

कांग्रेस नेता राहुल गांधी के इस करीबी पूर्व जज ने लंदन की अदालत में वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग से कहा है कि नीरव मोदी का केस भारत की अदालत में नहीं टिक पाएगा। थिप्से ने कोर्ट से नीरव को छोड़ने की वकालत की। बता दें कि अभय थिप्से 2018 में कांग्रेस में शामिल हुए थे।

Abhay Thipsay

वहीं नीरव मोदी को लेकर केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद ने बड़ा खुलासा किया है। रविशंकर प्रसाद ने कहा कि कांग्रेस पार्टी ने हर प्रकार से नीरव मोदी और मेहुल चौकसी को बचाने की कोशिश की है। रविशंकर प्रसाद ने नीरव मोदी के कांग्रेस लिंक पर खुलासा करते हुए कहा कि खुद राहुल गांधी 2013 में नीरव मोदी के एक कार्यक्रम में शामिल हुए थे। उन्होंने कहा कि अब रिटायर्ड जस्टिस अभय थिप्से भी नीरव मोदी के समर्थन में आ गए हैं। वो भी कांग्रेस पार्टी के मेंबर हैं।इसके आधार पर ये निष्कर्ष निकलता है कि कांग्रेस पार्टी बार-बार नीरव मोदी को बचाने की कोशिश कर रही है।

भाजपा नेता संबित पात्रा ने इसी को लेकर राहुल गांधी को घेरा। पात्रा ने ट्वीट कर राहुल पर सवाल दागे। उन्होंने कहा, यहां भारत में राहुल गांधी नीरव मोदी को लेकर सरकार से सवाल पूछते हैं दूसरी तरफ राहुल के खास व कांग्रेस के अभय थिप्से (पूर्व जज) नीरव मोदी के पक्ष में गवाह बनते हैं। आखिर क्या है जो राहुल नहीं चाहते कि नीरव भारत आए। उस रात पार्टी में राहुल और नीरव में क्या लेन-देन हुआ था?