मोदी सरकार ने संसद में कर दिया स्पष्ट, LAC पर 6 महीने में नहीं हुई कोई घुसपैठ, पाक सीमा से 47 बार…

कोरोना काल (Coronavirus) में भी सीमा पर चीन और पाकिस्तान (China and Pakistan) की नापाक हरकतें जारी है। एक तरफ जहां पूर्वी लद्दाख में वास्तविक नियंत्रण रेखा (LAC) के पास सीमा विवाद को लेकर भारत और चीन (India and China) के बीच लगातार तनाव की स्थित बनी हुई है।

Avatar Written by: September 16, 2020 2:06 pm
china-india

नई  दिल्ली। कोरोना काल (Coronavirus) में भी सीमा पर चीन और पाकिस्तान (China and Pakistan) की नापाक हरकतें जारी है। एक तरफ जहां पूर्वी लद्दाख में वास्तविक नियंत्रण रेखा (LAC) के पास सीमा विवाद को लेकर भारत और चीन (India and China) के बीच लगातार तनाव की स्थित बनी हुई है। बीते कुछ महीनों में सीमा पर दोनों देशों की सेनाओं के बीच हवाई फायरिंग से लेकर हिंसक झड़प तक देखने को मिली है। वहीं दूसरी ओर पाकिस्तान भी सीमा पर लगातार सीजफायर का उल्लंघन कर रहा है। इस बीच केंद्रीय गृह मंत्रालय (MHA) ने बुधवार को संसद में चीन और पाकिस्तान की तरफ से हो रही घुसपैठ को लेकर बड़ी जानकारी साझा की है।

India & China

केंद्रीय गृह मंत्रालय ने बताया है कि पिछले 6 महीने में भारत-चीन की सीमा पर किसी तरह की घुसपैठ नहीं हुई है। राज्यसभा में एक सवाल के जवाब में केंद्रीय गृह राज्यमंत्री नित्यानंद राय (Nityanand Rai) ने यह जानकारी दी। दरअसल संसद में मानसून सत्र के दौरान सरकार से पूछा गया कि पिछले 6 महीने में कितनी बार सीमा पर पाकिस्तान और चीन की तरफ से घुसपैठ की घटना को अंजाम दिया गया है। जिसपर गृह राज्यमंत्री नित्यानंद राय ने राज्यसभा में बताया कि पिछले 6 महीनों में भारत-चीन सीमा पर कोई घुसपैठ की सूचना नहीं है। जबकि पूर्वी लद्दाख में भारत-चीन सीमा पर दोनों देशों के बीच लंबे समय से सैन्य गतिरोध बना हुआ है।

Nityanand Rai

नित्यानंद राय ने राज्यसभा में बताया कि बॉर्डर पर घुसपैठ को रोकने के लिए सरकार ने काफी कदम उठाए हैं। वास्तविक नियंत्रण रेखा पर बॉर्डर फेंसिंग, इंटेलिजेंस, ऑपरेशनल कॉर्डिनेशन समेत कई मसलों से पाकिस्तान से हो रही घुसपैठ को रोका गया है।

Infiltration

भारत-पाकिस्तान सीमा पर घुसपैठ पर गृह राज्यमंत्री नित्यानंद राय ने बताया कि पाकिस्तान की तरफ से फरवरी में जीरो, मार्च में चार, अप्रैल में 24, मई में आठ, जून में शून्य और जुलाई में 11 बार घुसपैठ की कोशिश हुई।