North vs South row: राहुल के बचाव में आए रॉबर्ट वाड्रा, तो लोगों ने उड़ाई खिल्ली, कहा-सारी खुदाई एक तरफ जोरू का भाई…

North vs South row: वहीं राहुल गांधी को समर्थन करना बहनोई रॉबर्ट वाड्रा को महंगा पड़ गया। ट्विटर पर यूजर्स ने रॉबर्ट वाड्रा की जमकर क्लास लगा दी। एक यूजर ने रॉबर्ट वाड्रा पर तंज कसते हुए लिखा, साले की तरफदारी नही की तो बीवी नाराज होजाएगी ना!!क्या ही करे रॉबर्ट सर!जेठालाल जेसा केस है!

Avatar Written by: February 26, 2021 1:41 pm

नई दिल्ली। कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष और वायनाड से सांसद राहुल गांधी (Rahul Gandhi) अपने एक बयान की वजह से विवादों में फंस गए है। दरअसल हाल ही में राहुल गांधी ने साउथ और नॉर्थ की राजनीति में फर्क बताया। जिसके बाद उनके इस बयान पर सियासत जोरों पर है। इतना ही नहीं राहुल गांधी अपने बयान के चलते विपक्षी दलों के निशाने पर आ गए। एक तरफ जहां उत्तर और दक्षिण भारत को लेकर दिए गए बयान पर राहुल गांधी अपनी ही पार्टी के दिग्गज नेताओं के निशाने पर आ गए है, तो वहीं दूसरी ओर कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया के दामाद रॉबर्ट वाड्रा (Robert Vadra) राहुल गांधी के बचाव में उतार आए है।

Sonia Gandhi, Rahul Gandhi, Robert Vadra

कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा के पति रॉबर्ट वाड्रा ने मीडिया से बात करते हुए कहा कि, राहुल गांधी ने ऐसा कुछ भी नहीं कहा कि किसी को ठेस पहुंचे। वे न्यूट्रल हैं और भारत को एक रूप में देखते हैं। वे सबसे प्यार करते हैं। वाड्रा ने कहा कि सरकार के पक्ष में नहीं बोलने के कारण उन्हें एंटी-नेशनल ही कहा जाएगा।

वहीं राहुल गांधी को समर्थन करना बहनोई रॉबर्ट वाड्रा को महंगा पड़ गया। ट्विटर पर यूजर्स ने रॉबर्ट वाड्रा की जमकर क्लास लगा दी। एक यूजर ने रॉबर्ट वाड्रा पर तंज कसते हुए लिखा, साले की तरफदारी नही की तो बीवी नाराज होजाएगी ना!!क्या ही करे रॉबर्ट सर!जेठालाल जेसा केस है!

इससे पहले राहुल के इस बयान पर कांग्रेस के नेता दो धड़ों में बंटते नजर आए। कांग्रेस के नेता विशेष रूप से जी-23 के सदस्य, जिन्होंने पार्टी में सुधारों के लिए सोनिया गांधी को पत्र लिखा था, उन्होंने कथित तौर पर कहा है कि यह राहुल गांधी पर है कि वह उत्तर बनाम दक्षिण पर दिए अपने बयान का मतलब स्पष्ट करें। कपिल सिब्बल और आनंद शर्मा जैसे कांग्रेस के वरिष्ठ नेताओं का कहना है कि राहुल गांधी ही इसके सही मायने को स्पष्ट कर सकते हैं, जबकि अन्य कांग्रेस नेताओं ने राहुल की टिप्पणी का बचाव किया है।

Support Newsroompost
Support Newsroompost