वर्चुअल समिट : पीएम मोदी ने मॉरिसन को दिया भारत आने का न्यौता, ऑस्ट्रेलिया से रिश्तोंं को लेकर कही ये बात

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि भारत ऑस्ट्रेलिया के साथ अपने सम्बन्धों को व्यापक तौर पर और तेज़ गति से बढ़ाने के लिए प्रतिबद्ध है। यह न सिर्फ़ हमारे दोनों देशों के लिए महत्वपूर्ण है, बल्कि ‘इंडो पेसिफिक’ क्षेत्र और विश्व के लिए भी आवश्यक है।

Avatar Written by: June 4, 2020 11:25 am

नई दिल्ली। कोरोना महासंकट के बीच गुरुवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और ऑस्ट्रेलिया के पीएम स्कॉट मॉरिसन ने पहले भारत-ऑस्ट्रेलिया आभासी सम्मेलन की शुरुआत की। इस दौरान पीएम मोदी ने ऑस्ट्रेलियाई प्रधानमंत्री को भारत आने का न्यौता दिया। साथ ही दोनों देशों के बीच व्यापार संबंध बढ़ाने पर जोर दिया है। उन्होंने कहा कि बीते कुछ साल में भारत और ऑस्ट्रेलिया के संबंध काफी मजबूत हुए हैं।

Narendra Modi and Scott Morrison

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि भारत ऑस्ट्रेलिया के साथ अपने सम्बन्धों को व्यापक तौर पर और तेज़ गति से बढ़ाने के लिए प्रतिबद्ध है। यह न सिर्फ़ हमारे दोनों देशों के लिए महत्वपूर्ण है, बल्कि ‘इंडो पेसिफिक’ क्षेत्र और विश्व के लिए भी आवश्यक है। हमारी सरकार ने इस संकट को एक अवसर की तरह देखने का निर्णय लिया है। भारत में लगभग सभी क्षेत्रों में व्यापक रिफ़ार्म की प्रक्रिया शुरू की जा चुकी है। बहुत जल्द ही ग्राउंड लेवल पर इसके परिणाम देखने को मिलेंगे।

सम्मेलन के दौरान ऑस्ट्रेलिया के प्रधानमंत्री स्कॉट मॉरिसन ने कहा, ‘हम एक महासागर साझा करते हैं और हम उस महासागर के लिए, उसके स्वास्थ्य, कल्याण और सुरक्षा के लिए जिम्मेदारी साझा करते हैं। हम अपने समुद्री डोमेन पर उन मुद्दों के बारे में जो संबंध बना रहे हैं, मुझे लगता है कि यह हमारे देशों के बीच कई अन्य चीजों का मंच है।’

Australia PM

स्कॉट मॉरिसन ने कहा, मैं WHOके कार्यकारी बोर्ड के अध्यक्ष का पद लेने के लिए भारत के नेतृत्व की सराहना करता हूं। ये बोर्ड की अध्यक्षता करने का महत्वपूर्ण समय है,मुझे संदेह नहीं कि भारत का नेतृत्व विशेष रूप से स्वास्थ्य क्षेत्र में विश्व स्तर पर कठिन समस्याओं से निपटने में महत्वपूर्ण होगा।