newsroompost
  • youtube
  • facebook
  • twitter

जब पीएम मोदी ने किसान से पूछा-‘आपको मकान मिल गया, मुझे क्या दोगे?’, मिला ये जवाब

बातचीत के दौरान पीएम मोदी ने किसान से कहा कि आपके पीछे बहुत बड़ा मकान बन रहा है। इस पर किसान ने जवाब देते हुए कहा कि ये आपका ही है। किसान ने कहा कि आवास योजना से हमें इसका काफायदा मिला। किसान तिलकराम ने कहा कि पहले झोपड़ी में रहते थे, अब मकान बन रहा है, इससे परिवार काफी खुश है। 

नई दिल्ली। वैश्विक महामारी कोरोनावायरस के बीच प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शुक्रवार को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए ‘आत्मनिर्भर उत्तरप्रदेश रोजगार अभियान’ की शुरुआत की। इस दौरान 6 जनपदों के लोगों से बातचीत की। पहले जनपद हरदोई और बहराइच के लोगों से बात की। इस मौके पर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ भी मौजूद रहे।

PM Narendra Modi

पीएम मोदी ने की मजदूरों से बातचीत

इस अभियान को लॉन्च करने के दौरान पीएम मोदी ने कई मजदूरों के साथ संवाद किया। सबसे पहले पीएम मोदी ने गोंडा की रहने वाली विनिता से बातचीत की। विनिता ने संवाद के दौरान कहा कि प्रशासन से सूचना मिलने के बाद महिलाओं के साथ समूह का गठन किया और एक नर्सरी शुरू की। अब एक साल में 6 लाख रुपये की बचत हो रही है।

इसके बाद पीएम मोदी ने बहराइच के तिलकराम से भी संवाद किया। तिलक राम खेती करते हैं। बातचीत के दौरान पीएम मोदी ने किसान से कहा कि आपके पीछे बहुत बड़ा मकान बन रहा है। इस पर किसान ने जवाब देते हुए कहा कि ये आपका ही है। किसान ने कहा कि आवास योजना से हमें इसका का फायदा मिला। किसान तिलकराम ने कहा कि पहले झोपड़ी में रहते थे, अब मकान बन रहा है, इससे परिवार काफी खुश है।

PM Modi

इस दौरान प्रधानमंत्री ने तिलकराम से कहा, “आपको मकान मिला है, लेकिन मुझे क्या दोगे?” जवाब में उन्होंने कहा कि हम दुआ करते हैं कि आप पूरी जिंदगी प्रधानमंत्री रहें। प्रधानमंत्री ने कहा कि आप मेरे लिए एक काम करेंगे। आप अपने बच्चों को अच्छी पढ़ाई कराएं और इसकी जानकारी मुझे देते रहें।

सिद्धार्थनगर के कोडरा गांव के कुरबान अली ने काम मिलने पर मोदी तथा मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को धन्यवाद दिया। उन्होंने कहा कि हम मुंबई में काम करने से पहले गांव में प्राइवेट काम करते थे, अब हमको राजमिस्त्री काम मिला है। हम ट्रेनिंग भी कर रहे हैं, हमको इसका प्रमाणपत्र भी मिला है।


इससे पहले मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा, “कोरोना संकट में प्रधानमंत्री मोदी ने कामगार और श्रमिकों की जिन योजनाओं को आगे बढ़ाने का मार्गदर्शन दिया था, उससे अब रोजगार को बढ़ावा दिया जा रहा है।”