PPE की आपूर्ति शुरू, फर्जी खबरों से बचें : स्वास्थ्य मंत्रालय

देश में कोरोनासंकट के बीच स्वास्थ्य मंत्रालय ने प्रेस कॉन्फ्रेंस की। जिसमें स्वास्थ्य मंत्रालय ने प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान बताया कि कोरोनावायरस से 473 लोग अब तक अस्पताल से ठीक होकर डिस्चार्ज हो चुके हैं।

Written by: April 9, 2020 8:12 pm

नई दिल्ली। देश में कोरोनासंकट के बीच स्वास्थ्य मंत्रालय ने प्रेस कॉन्फ्रेंस की। जिसमें स्वास्थ्य मंत्रालय ने प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान बताया कि कोरोनावायरस से 473 लोग अब तक अस्पताल से ठीक होकर डिस्चार्ज हो चुके हैं, वहीं, कुल 5734 मामलों की पुष्टि हुई है। अधिकारी के मुताबिक पीपीई, मास्क और वेंटिलेटर की आपूर्ति अब शुरू हो गई है। भारत में 20 कंपनियां पीपीई का निर्माण कर रही हैं। 49,000 वेंटिलेटर भी खरीदे जा रहे हैं।

स्वास्थ्य मंत्रालय के संयुक्त सचिव लव अग्रवाल ने बताया कि पिछले 24 घंटों में कोरोना के 549 नए मामले सामने आए है। उनका कहना है कि अब तक 166 मौतें हुई हैं। उन्होंने बताया कि रेलवे ने 3,250 डिब्बों को कोरोना वायरस पृथक इकाइयों में तब्दील किया है, कुल 5,000 डिब्बों को तब्दील किया जाएगा।

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने गुरुवार को जोर देकर कहा कि लोगों को फर्जी खबरों से बचना चाहिए। बुधवार से अब तक कोरोनावायरस संक्रमण के 540 नए मामले आए और 17 मौतें हुई हैं, वहीं कोरोनावायरस विशेषज्ञों की 10 टीमों को 9 राज्यों में भेजा गया है। 473 लोग ठीक हो चुके हैं। नए मामलों और मौतों के साथ, भारत में पुष्टि किए गए मामलों की कुल संख्या 5,734 है, जबकि 166 लोग घातक वायरल संक्रमण के कारण दम तोड़ चुके हैं। अभी देश में कुल 5,095 सक्रिय मामले हैं।

कोरोनोवायरस के खिलाफ लड़ाई में रेलवे के महत्व का हवाला देते हुए, अग्रवाल ने कहा, “रेलवे ने 3,250 कोचों को कोविड -19 आइसोलेशन इकाइयों में परिवर्तित किया है, जिनमें बेड भी हैं और कुल 5,000 कोचों को परिवर्तित किया जाना है।”

Jammu Kashmir Corona icon

उन्होंने यह भी जोर दिया, “फर्जी समाचार पर भरोसा करने की कोई आवश्यकता नहीं है, किसी भी प्रामाणिक जानकारी तक राज्य सरकार या केंद्र सरकार के माध्यम से पहुंचा जा सकता है और स्वास्थ्य मंत्रालय की वेबसाइट पर भी जानकारियां उपलब्ध हैं। इस संक्रामक बीमारी से लड़ने के लिए जागरूकता आवश्यक है।”