राजस्थान में सियासी संकट के बीच गहलोत का शक्ति प्रदर्शन, मीडिया के सामने कराई विधायकों की परेड

मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने पहले मीडिया को अपने आवास में बुलाया है, जहां पर विधायकों की संख्या का शक्ति प्रदर्शन किया गया। हालांकि इससे पहले भी अशोक गहलोत की ओर से लगातार 100 से अधिक विधायकों के समर्थन की बात कही जा रही थी।

Written by: July 13, 2020 1:59 pm

नई दिल्ली। राजस्थान में जारी सियासी संकट के बीच मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने मीडिया के सामने सौ से अधिक विधायकों की परेड करवाकर अपनी शक्ति का प्रदर्शन किया। इस परेड से गहलोत ने साफ संकेत देने की कोशिश की है कि उनकी सरकार को कोई खतरा नहीं है। बता दें कि सोमवार दोपहर को अशोक गहलोत ने सौ से अधिक विधायकों की परेड मीडिया के सामने करवाई और विक्ट्री साइन भी दिखाया।

Ashok gahlot Rajsthan

इस परेड के बाद से उन दावों को धक्का लगा है जिसमें कहा जा रहा था कि सचिन पायलट के पास 25-30 विधायकों का समर्थन हैं और वो राजस्थान सरकार के लिए खतरा पैदा कर सकते हैं। फिलहाल अब इस परेड से साफ है कि अशोक गहलोत ने संदेश दिया है कि उनके पास बहुमत है और सचिन पायलट के सभी दावे गलत साबित होते दिख रहे हैं। ऐसे में अब हर किसी की नजर इसपर है कि सचिन पायलट क्या कदम उठाएंगे।

Ashok gahlot Rajsthan Victory

बता दें कि मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने पहले मीडिया को अपने आवास में बुलाया है, जहां पर विधायकों की संख्या का शक्ति प्रदर्शन किया गया। हालांकि इससे पहले भी अशोक गहलोत की ओर से लगातार 100 से अधिक विधायकों के समर्थन की बात कही जा रही थी। इस दौरान अशोक गहलोत ने मीडिया के सामने विक्ट्री साइन दिखाया।

इस पूरी घटना के पहले राजस्थान कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष और उपमुख्यमंत्री सचिन पायलट ने दावा किया था कि 25 विधायक उनके साथ हैं। सचिन पायलट ने साफ कहा कि वो जयपुर में बैठक में हिस्सा नहीं लेंगे। दूसरी ओर गहलोत गुट का दावा है कि उनके पास 102 विधायक हैं। बता दें कि कांग्रेस आला कमान पहले ही साफ कर चुका था कि, आज की बैठक में भाग नहीं लेने वाले विधायकों पर कार्रवाई होगी।