Connect with us

UP Election 2022

UP Election 2022: चुनाव लड़ने पर आरपीएन सिंह का बड़ा बयान, पत्नी सोनिया सिंह पर कही ये बात

UP Election 2022: इसी बीच अब ऐसे भी कयास लगाए जा रहे है कि आरपीएन सिंह की पत्नी सोनिया सिंह भी चुनाव लड़ सकती है। जिस पर अब आरपीएन सिंह ने पत्नी सोनिया सिंह और उनके चुनाव लड़ने की अटकलों पर अपनी प्रतिक्रिया दी है। मीडिया द्वारा सवाल पूछे जाने पर आरपीएन सिंह ने कहा कि, ‘राजनीति में मैं अकेला हूं। पार्टी मुझसे जो कहेगी, मैं जरूर करूंगा।’

Published

on

RPN Singh join BJP

नई दिल्ली। उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) विधानसभा चुनाव से पहले कांग्रेस को तगड़ा झटका लगा है। दरअसल पूर्व केंद्रीय मंंत्री आरपीएन सिंह ने कांग्रेस से इस्तीफा देकर बीजेपी का दामन थाम लिया है। उन्होंने केंद्रीय मंत्री धर्मेंद्र प्रधान, डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य, केंद्रीय मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया की मौजूदगी में पार्टी में शामिल हुए। वहीं भाजपा में शामिल होने के बाद आरपीएन सिंह ने कांग्रेस हाईकमान को निशाने पर लिया। उन्होंने कहा कि मैंने 32 साल कांग्रेस में बिताए, लेकिन अब पार्टी वैसी नहीं रही। बता दें कि सोमवार को ही कांग्रेस पार्टी ने स्टार प्रचारकों की लिस्ट जारी की थी। इस लिस्ट में आरपीएन सिंह का नाम भी शामिल था। बता दें कि यूपी में 7 चरणों में विधानसभा होने हैं। पहले चरण का मतदान 10 फरवरी को होगा, जबकि 10 मार्च को चुनाव के नतीजे घोषित किए जाएगे।

RPN Singh join BJP

वहीं आरपीएन सिंह के भाजपा में शामिल होते ही उनकी पत्नी सोनिया सिंह का नाम सुर्खियों में आ गया है। ऐसे भी कयास लगाए जा रहे है कि आरपीएन सिंह की पत्नी सोनिया सिंह भी चुनाव लड़ सकती है और उन्हें पडरौना सीट से चुनावी मैदान में उतारा जा सकता है।  जिस पर अब आरपीएन सिंह ने पत्नी सोनिया सिंह और उनके चुनाव लड़ने की अटकलों पर प्रतिक्रिया दी है। मीडिया द्वारा सवाल पूछे जाने पर आरपीएन सिंह ने कहा कि, ‘राजनीति में मैं अकेला हूं। पार्टी मुझसे जो कहेगी, मैं जरूर करूंगा।’ बता दें कि सोनिया सिंह एनडीवी की सीनियर पत्रकार है और अक्सर वो सोशल मीडिया पर ट्रेंड होती रहती है।

कौन हैं आरपीएन सिंह-

आरपीएन सिंह कांग्रेस के कद्दावर और वफादार नेताओं में शुमार थे। वे पूर्वांचल कस्बे में कांग्रेस का बड़ा चेहरा थे। वर्ष 1996 से 2009 तक विधायक रहने के बाद कुशीनगर सीट से सांसद भी रहे। आरपीएन सिंह पडरौना सीट से भी विधायक रहे थे। 1996 , 2002  और 2007 में लगातार तीन बार पडरौना विधानसभा से कांग्रेस पार्टी से विधायक रहे। 2009 में पहली बार लोकसभा का चुनाव लडे और तत्कालीन बीएसपी सरकार के दिग्गज नेता स्वामी प्रसाद मौर्य को हराकर सांसद बने। 2011 की कांग्रेस सरकार में केंद्रीय पेट्रोलियम एवम प्राकृतिक गैस राज्य मंत्री रहे।  2012 में केंद्रीय सड़क परिवहन राजमार्ग और कॉरपोरेट मामलों के राज्यमंत्री रहे। 2013 से 2014 तक केंद्रीय गृह राज्य मंत्री रहे।

Advertisement
Continue Reading
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Advertisement
Advertisement