चुनाव 2024

Lok Sabha Elections 2024: बता दें कि ममता बनर्जी पहले ही विपक्षी गठबंधन पर खुलकर नाराजगी जाहिर कर चुकी है। वो इंडिया गठबंधन के संयोजक से लेकर सीट बंटवारे तक अपना रूख साफ करते हुए अलग हो चुकी है। ममता ने कांग्रेस पर सवाल उठाते हुए कहा, वो राज्यों में क्षेत्रीय पार्टियों को आगे क्यों नहीं रखती है।

Lok Sabha Election And BJP: बीजेपी ने 2019 के लोकसभा चुनाव में अपने दम पर 303 सीटें जीती थीं। ऐसे में इस बार अगर उसे 400 का लक्ष्य हासिल करना है, तो सहयोगी दलों के साथ काफी मेहनत करनी होगी। सहयोगी दलों के साथ 2019 में 352 लोकसभा सीटों पर जीत दर्ज की थी।

MP Cabinet Expansion: पिछली शिवराज सिंह चौहान सरकार के केवल 6 मंत्रियों को नई कैबिनेट में जगह मिली।गोपाल भार्गव, मीना सिंह, उषा ठाकुर, हरदीप सिंह डंग, बृजेन्द्र प्रताप सिंह, भूपेन्द्र सिंह, प्रभु राम चौधरी, ओमप्रकाश सकलेचा, बृजेन्द्र सिंह यादव और बिसाहू लाल को नये मंत्रिमंडल में जगह नहीं मिली।

Lok Sabha Election 2024: सीएम केजरीवाल ने कहा, ''आप ने हमें वोट रंगला पंजाब बनाने के लिए दिया था। दिल्ली का काम देखकर आपने पंजाब में वोट दिया था। सारी पार्टी वाले दुखी हो गए है। इनको लग रहा है कि अब परमानेंट नौकरी गई। अब दोबारा इनको कोई वोट नहीं देगा।''

पीएम नरेंद्र मोदी और बीजेपी विरोधी 28 विपक्षी दलों के I.N.D.I.A (इंडिया) गठबंधन में जबरदस्त टकराव दिखने लगा है। इस टकराव में समाजवादी पार्टी (सपा), कांग्रेस, सीपीएम और तृणमूल कांग्रेस (टीएमसी) शामिल हैं। इनमें से सपा यूपी में और टीएमसी पश्चिम बंगाल में क्षेत्रीय क्षत्रप हैं।

साल 2014 और 2019 में हुए लोकसभा चुनाव की बात करें, तो बीजेपी ने 2014 में 42 फीसदी वोट हासिल करते हुए 85 में से 71 सीटें जीत ली थीं। 2019 में उसकी सीटों की संख्या में कमी आई थी। पिछली बार यूपी की 62 लोकसभा सीटों पर ही बीजेपी को जीत हासिल हुई थी।

केरल की राजधानी तिरुवनंतपुरम में अमेरिका के सिलिकॉन वैली के डायरेक्ट टू कंज्यूमर मार्केटप्लेस यानी वेडॉटकॉम के प्रोफेशनल्स से बातचीत में शशि थरूर ने लोकसभा चुनाव के नतीजे आने के बाद गठबंधन के नेताओं को एकजुटता दिखानी होगी। जिसके बाद पीएम पद के लिए किसी एक व्यक्ति का चुनाव होगा।

Assembly Election 2023: भाजपा अध्यक्ष जेपी नड्डा ने किरेन रिजिजू को विधानसभा चुनाव से पहले मिजोरम का चुनाव प्रभारी नियुक्त कर दिया है। इस संबंध में भाजपा के महासचिव अरुण सिंह ने नोटिफिकेशन जारी कर दिया है। जिससे तत्काल प्रभाव से लागू कर दिया गया है।

Assembly Elections 2023: 13 सितंबर की बैठक के बाद, समन्वय पैनल, जिसे मूल रूप से 14 सदस्यों के साथ डिज़ाइन किया गया था, भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी (मार्क्सवादी) द्वारा भागीदारी से बाहर निकलने के बाद घटाकर 13 कर दिया गया था।

Latest