Corona Vaccine: केंद्रीय मंत्री नरेंद्र तोमर ने आरएमएल दिल्ली में तो दलाई लामा ने धर्मशाला में लगवाया कोरोना का टीका

Corona Vaccine: 14वें दलाई लामा का जन्म 6 जुलाई, 1935 को तिब्बत के दूरस्थ अमदो क्षेत्र के एक छोटे से गांव में हुआ था। निर्वासित तिब्बती प्रशासन हिमाचल प्रदेश के पहाड़ी शहर धर्मशाला में स्थित है। यहीं धर्मशाला के सरकारी अस्पताल में उन्होंने टीका लगवाया। वहीं केंद्रीय कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर ने शनिवार को राम मनोहर लोहिया (आरएमएल) अस्पताल में कोविड-19 वैक्सीन की पहली वैक्सीन लगवाई।

आईएएनएस Written by: March 6, 2021 4:17 pm

नई दिल्ली/धर्मशाला। तिब्बत के निर्वासित धर्मगुरु दलाई लामा ने शनिवार को हिमाचल प्रदेश में अपने निवास स्थान के पास एक सरकारी अस्पताल में कोविड-19 की पहली वैक्सीन लगवाई। उन्होंने लोगों से भी इस महामारी से बचने के लिए टीका लगवाने का आग्रह किया। डॉक्टरों ने इस आशय की जानकारी दी। वैक्सीन लगवाने के बाद 85 वर्षीय नोबेल शांति पुरस्कार विजेता दलाई लामा ने केंद्र और राज्य सरकारों को धर्मशाला के जोनल अस्पताल में कोविड वैक्सीन लेने की सुविधा के लिए धन्यवाद दिया।

Dalai Lama Corona Vaccine

उन्होंने टीका लगवाने के पात्र सभी लोगों विशेष रूप से ‘रोगियों’ से अपील की कि वे आगे आएं और अधिक से अधिक लाभ के लिए वैक्सीन लगवाएं। उन्होंने कहा कि यह बहुत महत्वपूर्ण है, इसलिए मैंने इसे वैक्सीन ली और मैं यह साझा करना चाहता हूं कि अधिक से अधिक लोगों को इंजेक्शन लेने का साहस दिखाना चाहिए।

उन्होंने कहा कि डॉक्टरों एवं मेरे विश्वस्त दोस्तों ने सुझाया कि मुझे यह इंजेक्शन लेना चाहिए। कुछ गंभीर समस्या को रोकने के लिए यह इंजेक्शन बहुत मददगार और अच्छा है। इसलिए अन्य रोगियों को अधिक लाभ के लिए इस इंजेक्शन को लेना चाहिए।

14वें दलाई लामा का जन्म 6 जुलाई, 1935 को तिब्बत के दूरस्थ अमदो क्षेत्र के एक छोटे से गांव में हुआ था। निर्वासित तिब्बती प्रशासन हिमाचल प्रदेश के पहाड़ी शहर धर्मशाला में स्थित है।

कृषि मंत्री नरेंद्र तोमर ने आरएमएल में कोविड का पहला टीका लगवाया

केंद्रीय कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर ने शनिवार को राम मनोहर लोहिया (आरएमएल) अस्पताल में कोविड-19 वैक्सीन की पहली वैक्सीन लगवाई। भारत ने सोमवार को दुनिया के सबसे बड़े टीकाकरण अभियान की शुरुआत की जिसमें 60 वर्ष से अधिक आयु वाले लोगों के अलावा अन्य बीमारियों से जूझ रहे 45 साल से अधिक उम्र के लोग भी शामिल थे।

Narendra Singh Tomar

कोविड की अपनी पहली खुराक लेने के लिए तोमर आज सुबह आरएमएल अस्पताल पहुंचे और सभी पात्र लोगों से भी कोविड का टीका लगवाने की अपील की। भारत ने 2 मार्च को अपने कोविड-19 वैक्सीन कवरेज का विस्तार किया। इस दिन प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी वैक्सीन लगवाकर इस अभियान को गति प्रदान की।

16 जनवरी को टीकाकरण अभियान शुरू हुआ था। पहले चरण मे हेल्थ वर्कर्स एवं फ्रंटलाइन वर्कर्स को प्राथमिकता के आधार पर टीका लगाया गया। इसके बाद देश भर में सरकारी और निजी चिकित्सा संस्थानों में हजारों की संख्या में लोग टीका लगवाने के लिए पहुंचे और इसके परिणामस्वरूप इस अभियान को नित्य गति मिल रही है।

Narendra Singh Tomar

टीकाकरण अभियान प्रारंभ होने के बाद से देश में ही निर्मित भारत बायोटेक की ‘कोवैक्सिन’ और ऑक्सफोर्ड-एस्ट्राजेनेका की ‘कोविशिल्ड’ लोगों को लगाई जा रही है।

तोमर के अलावा राष्ट्रपति राम नाथ कोविंद, उप-राष्ट्रपति एम. वेंकैया नायडू, गृह मंत्री अमित शाह, स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन और विभिन्न राज्यों के मुख्यमंत्री भी कोविड की वैक्सीन लगवा चुके हैं।

Support Newsroompost
Support Newsroompost