एक मार्च के बाद यूपी में बाहर से आए हर व्यक्ति की होगी निगरानी और जांच, योगी की टीम-11 रखेगी नज़र

योगी सरकार ने इस 11 सदस्यीय कमेटी को अलग अलग ज़िम्मेदारी सौंपी है। इनमें मुख्य सचिव की अध्यक्षता में एक कमेटी अंतरराज्यीय मामलों और भारत सरकार के साथ संवाद बनाने और शिक्षा व सेवायोजन से जुड़े लोगों के लिए काम कर रही है।

Written by: March 29, 2020 12:50 pm

नई दिल्ली। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ प्रदेश में कोराना के प्रकोप को रोकने के लिए दिन रात एक किए हुए हैं। उनकी टीम-11 के साथ लगातार मीटिंग चल रही है। यूपी में लॉकडाउन को सफल बनाने के लिए 11 समितियां बनाई गई हैं। जिसे टीम-11 का नाम दिया गया है। ये टीम सीएम योगी को रिपोर्ट करेगी।

CM Yogi Adityanath

योगी सरकार ने एक अहम फैसला लिया है। इसके मुताबिक एक मार्च के बाद यूपी में बाहर से आए हर नागरिक की निगरानी और हेल्थ जांच करने के खास निर्देश दिए गए हैं। अधिकारियों को स्पष्ट कहा गया है कि किसी पर ज़रा भी शक हो तो उसे तत्काल क्वारनटाइन करें। बाहर से आए लोगों को 14 दिनों का हेल्थ प्रोटोकॉल पालन कराने के निर्देश भी दिए गए हैं।

anand vihar

योगी सरकार ने इस 11 सदस्यीय कमेटी को अलग अलग ज़िम्मेदारी सौंपी है। इनमें मुख्य सचिव की अध्यक्षता में एक कमेटी अंतरराज्यीय मामलों और भारत सरकार के साथ संवाद बनाने और शिक्षा व सेवायोजन से जुड़े लोगों के लिए काम कर रही है।

Chief Minister Yogi Adityanath

दूसरी कमेटी निर्माण श्रमिकों, औद्योगिक संस्थानों व शिक्षण संस्थाओं से जुड़े सभी लोगों को सवेतन अवकाश सुनिश्चित कराएगी। श्रमिकों को समय पर भरण-पोषण भत्ता दिलाने के लिए भी यह कमेटी कार्य करेगी। एक कमेटी डोर स्टेप डिलीवरी यानी घर-घर खाद्यान्न पहुंचाने की कार्यवाही कर रही है। जबकि अपर मुख्य सचिव गृह की अध्यक्षता में बनी एक कमेटी को लॉकडाउन का पालन कराने का ज़िम्मा सौंपा गया है।