Corona vaccination: इस सफाई कर्मचारी को लगा पहला कोरोना टीका, जानिए कैसा रहा अनुभव

c: कोरोना महामारी के खिलाफ आज भारत ने बड़ी उपलब्धि हासिल की है। शनिवार को देश में  दुनिया की अब तक की सबसे बड़ी वैक्सीनेशन ड्राइव शुरू हो गया है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शनिवार को देश में कोरोना वैक्सीन (Corona Vacccination) टीकाकरण अभियान शुरू किया।

Avatar Written by: January 16, 2021 12:30 pm

नई दिल्ली। कोरोना महामारी के खिलाफ आज भारत ने बड़ी उपलब्धि हासिल की है। शनिवार को देश में  दुनिया की अब तक की सबसे बड़ी वैक्सीनेशन ड्राइव शुरू हो गया है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शनिवार को देश में कोरोना वैक्सीन (Corona Vacccination) टीकाकरण अभियान शुरू किया। इस मौके पर प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि पूरा देश बेसब्री से इस दिन का इंतजार रहा था। खुशी की बात है कि बहुत कम समय में ही कोरोना की वैक्सीन आ गई है। बता दें कि हाल ही में दवा नियामक ड्रग्स कंट्रोलर जनरल ऑफ इंडिया (DCGI) ने भारत में बनी स्वदेशी कोरोना वैक्सीन (Corona Vaccine) की मंजूरी दे दी है। डीसीजीआई ने भारत बायोटेक की कोवैक्सीन (Covaxin) और सीरम इंस्टीट्यूट की कोविशील्ड (COVISHIELD) को आपात प्रयोग की मंजूरी दी है।

PM Modi

बता दें कि देश का पहला कोरोना वैक्सीन अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (AIIMS), नई दिल्ली के एक स्वास्थ्यकर्मी मनीष कुमार को लगाया गया। इस मौके पर केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ हर्ष वर्धन भी वहां मौजूद रहे। वहीं एम्स निदेशक डॉ रणदीप गुलेरिया ने भी वैक्सीन लगवाया।

वहीं एम्स में वैक्सीन लगवाने वाले पहले सफाई कर्मचारी मनीष कुमार ने मीडिया से बात करते हुए कहा कि,  मेरा अनुभव बहुत ही अच्छा रहा है, वैक्सीन लगने से मुझे कोई झिझक नहीं होगी और मैं अपने देश की और सेवा करता रहूंगा। लोगों को घबराने की कोई जरूरत नहीं है। मेरे मन में जो डर था वो भी निकल गया। सबको वैक्सीन लगवानी चाहिए।

पीएम मोदी ने की कोविड टीकाकरण की शुरुआत, कहा, ‘झूठे प्रोपेगेंडा पर ध्यान न दें’

वहीं देश में आज कोरोना टीकाकरण अभियान का आगाज करते हुए प्रधानमंत्री मोदी ने देशवासियों से वैक्सीन को लेकर किसी भी प्रकार की अफवाहों पर विश्वास न करने की अपील की। उन्होंने कहा कि विश्व भर में विभिन्न प्रकार की 60 प्रतिशत जीवन रक्षक वैक्सीन भारत से निर्यात की जाती है। भारतीय वैज्ञानिकों ने पूरी तरह से जांच-परख कर कोरोना वैक्सीन तैयार की है। देशवासियों से मेरी अपील है कि वैक्सीन के खिलाफ किए जा रहे झूठे प्रोपेगेंडा पर ध्यान न दें। यह वैक्सीन पूरी तरह से सुरक्षित और कोरोना को हराने में कारगर है।

PM Narendra Modi

भारतीय वैज्ञानिकों द्वारा कोरोना वैक्सीन बनाए जाने की उपलब्धियों पर प्रधानमंत्री मोदी ने राष्ट्रकवि रामधारी सिंह दिनकर द्वारा लिखित एक कविता की पंक्तियां सुनाते हुए कहा, “मानव जब जोर लगाता है पत्थर पानी बन जाता है।”

Support Newsroompost
Support Newsroompost