Connect with us

देश

Rajnath Singh: विकास के मामले में क्यों पीछे रहा जम्मू-कश्मीर? राजनाथ सिंह ने बताई वजह, लगाई कांग्रेस की जमकर क्लास

दरअसल, केंद्रीय रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने शुक्रवार को लद्दाख में सीमा सड़क संगठन द्वारा बनाए जा रहे 45 ब्रिज, 27 सड़कें, दो हेलीपैड और कार्बन मुक्त आवास के प्रोजेक्ट का शिलान्यास किया। इन सभी परियोजनाओं की पहुंच सात राज्यों सहित दो केंद्र शासित प्रदेशों तक होगी जिससे आम जनमानस को यात्रा के दौरान बहुत सुगमता होने जा रही है।

Published

Rajnath Singh

नई दिल्ली। यूं तो देश में बेशुमार ऐसे मसले हैं, जिसे लेकर देश में सियासी नुमाइंदों के बीच वाकयुद्ध का सिलसिला जारी रहता है, लेकिन कुछ मसले ऐसे हैं, जिसे लेकर सियासी नुमाइंदों के बीच सियासी वार-प्रतिवार पिछले सात दशकों से चल आ रहा है। इन्हीं में से एक मसला है जम्मू-कश्मीर। हालांकि, केंद्र की मोदी सरकार का दावा है कि 5 अगस्त 2019 को धारा 370 के निरस्त होने के बाद से घाटी में आतंकवाद पर करारा प्रहार हुआ है और साथ ही कई समस्याओं का निदान हुआ है, लेकिन कांग्रेस समेत अन्य विपक्षी दल सत्तारूढ़ दल द्वारा किए जा रहे इन दावों को सिरे से खारिज करते हुए कहते हैं कि आज भी जम्मू-कश्मीर में स्थिति दुरूह बनी हुई है। लेकिन, इन सभी वाकयुद्ध के बीच केंद्रीय रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह का जम्मू-कश्मीर को लेकर ना महज बड़ा बयान सामने आया है, बल्कि उन्होंने पूर्ववर्ती कांग्रेस सरकार पर जमकर निशाना भी
साधा है। आइए, आगे आपको बताते हैं कि उन्होंने क्या कुछ कहा है?

दरअसल, केंद्रीय रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने शुक्रवार को लद्दाख में सीमा सड़क संगठन द्वारा बनाए जा रहे 45 ब्रिज, 27 सड़कें, दो हेलीपैड और कार्बन मुक्त आवास के प्रोजेक्ट का शिलान्यास किया। इन सभी परियोजनाओं की पहुंच सात राज्यों सहित दो केंद्र शासित प्रदेशों तक होगी जिससे आम जनमानस को यात्रा के दौरान बहुत सुगमता होने जा रही है। मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, इनमें से 20 प्रोजेक्ट इकलौते जम्मू-कश्मीर के लिए हैं। बता दें कि 18 प्रोजेक्ट लद्धाख और अरूणाचल प्रदेश में, 5 उत्तराखंड और 14 अन्य प्रोजेक्ट सिक्कम, हिमाचल प्रदेश और राजस्थान के लिए हैं। ध्यान रहे कि इन सभी परियोजनाओं के जमीन पर उतर जाने से जम्मू-कश्मीर वासियों को आधारिक संरचना के मोर्चे पर कई फायदें मिलेंगे। जम्मू-कश्मीर में विकास की बयार बहेगी। बता दें कि इन सभी परियोजनाओं का शुक्रवार को रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने शिलान्यास किया। आगे आपको बताते हैं कि उन्होंने अपने संबोधन में क्या कुछ कहा।

राजनाथ सिंह ने आगे कहा कि अगर भारत की स्वतंत्रता के उपरांत ही जम्मू-कश्मीर में आधारभूत संरचनाओं का विकास हो गया होता, तो आज घाटी में आतंकवादी की समस्या ना होती है, लेकिन पूर्व की सरकारों ने इस ओर कोई भी ध्यान नहीं दिया, लेकिन आज जब केंद्र में मोदी जी प्रधानमंत्री की कुर्सी पर विराजमान हुए हैं, तो उन्होंने धारा 370 को निरस्त करने सहित अन्य कड़े फैसले लेकर आतंकवाद की रीढ़ की हड्डी तोड़ दी है। हालांकि, इस दिशा में हमें और भी कई काम करने हैं, जिस ओर हमारी सरकार का ध्यान है। ध्यान रहे कि राजनाथ सिंह का उपरोक्त बयान अभी सियासी गलियारों में खासा सुर्खियों में है।

Advertisement
Advertisement
Advertisement
मनोरंजन

#SidharthKiaraWedding: सिद्धार्थ मल्होत्रा को शादी पर EX गर्लफ्रेंड आलिया भट्ट ने ‘कैसे’ दी बधाई, अब सोशल मीडिया पर हो रही चर्चा

aditya thakrey main
देश

Aditya Thakrey Car Pelted: बाल-बाल बचे उद्धव ठाकरे के बेटे आदित्य, संभाजीनगर में जनसभा से बाहर निकलते ही…

jagadguru ramdayal 2
देश

Ramcharitmanas Row: रामचरितमानस के बारे में बयानबाजी करने वालों पर संतों का भड़का गुस्सा, जगद्गुरु रामदयाल बोले- सड़क से कोर्ट तक लड़ेंगे

baba ramdev 1
देश

Baba Ramdev: ‘मेरे वकील ने फंसाया’, योगगुरु रामदेव पर हेट स्पीच का केस कराने वाले पिठाई खान बोले- मुझे तो कुछ पता ही नहीं

mahua moitra
देश

Mahua Moitra: संसद में पहली बार शर्मनाक नजारा, ममता की पार्टी की सांसद महुआ मोइत्रा ने लोकसभा में दी गाली!, माफी मांगने से भी इनकार

Advertisement