Video: औरंगजेब की कब्र पर फूल चढ़ाने क्यों गए थे? सवाल सुन बौखलाए टिकैत, महिला पत्रकार को कह दिया ‘भूतनी’

महिला पत्रकार ने राकेश टिकैत से कुछ ऐसे सवाल पूछ लिए थे, जिससे सुनकर टिकैत का पारा गरमा गया। और वे अपनी हदों को पार करने आमादा हो गए। दरअसल, महिला पत्रकार टिकैत से औरंगजेब के संदर्भ में सवाल पूछा था कि आप औरंगजेब की कब्र पर फूल चढ़ाने गए थे। तो इस पर टिकैत ने कहा कि नहीं मैं नहीं गया था, वो जहां पर मरा था, वो पवित्र स्थान था, वहां पर शिव मंदिर भी है।

सचिन कुमार Written by: June 12, 2022 3:12 pm
rakesh tikket

नई दिल्ली। राकेश टिकैत के बारे में तो आप जानते ही होंगे कि कैसे उन्होंने बीते दिनों किसान आंदोलन की रहनुमाई कर केंद्र सरकार द्वारा लाए गए तीनों कृषि कानूनों को निरस्त करवाया था। जिसके बाद माना जाने लगा कि वे राजनीति में भी पदापर्ण कर सकते हैं, लेकिन अफसोस शयाद उनकी किस्मत ने उनकी साथ नहीं दिया और फिलहाल वो बतौर किसान नेता के अवतार में ही नजर आ रहे हैं, लेकिन उनके साथ आए कुछ न कुछ ऐसा होता ही रहता है, जिसकी वजह से वे सुर्खियों के सैलाब में सराबोर हो जाते हैं। पता ही होगा कि आपको कि बीते दिनों बेंगलुरु में कैसे उनके ऊपर स्याही फेंक दी गई थी और वे चर्चा में आ गए थे। तो आपको बता दें कि इसी कड़ी में एक बार फिर से सुर्खियों में आ गए हैं। दरअसल, उन्होंने आज कार्यक्रम के दौरान एक महिला पत्रकार को भूतनी कह दिया है, जिसके बाद किसान नेता राकेश टिकैत के खिलाफ सोशल मीडिया समेत अन्य मंचों पर रोष देखने को मिल रहा है। आइए, जरा हम आपको सबकुछ विस्तार से बताते हैं।

 

जानें पूरा माजरा

महिला पत्रकार ने राकेश टिकैत से कुछ ऐसे सवाल पूछ लिए थे, जिससे सुनकर टिकैत का पारा गरमा गया। और वे अपनी हदों को पार करने आमादा हो गए। दरअसल, महिला पत्रकार टिकैत से औरंगजेब के संदर्भ में सवाल पूछा था कि आप औरंगजेब की कब्र पर फूल चढ़ाने गए थे। तो इस पर टिकैत ने कहा कि नहीं मैं नहीं गया था, वो जहां पर मरा था, वो पवित्र स्थान था, वहां पर शिव मंदिर भी है। टिकैत ने आगे कहा कि पूरे देश में पाप कर उसने उस स्थान पर जाकर प्राण त्यागे थे।’ इसके बाद महिला पत्रकार ने टिकैत से सवाल पूछा कि आपको तो पता ही होगा कि औरंगजेब ने हमारे यहां हजारों मंदिरों को ध्वस्त करवाया था। महिला पत्रकार ने आगे कहा कि आप राजनीति दलों को बीमारी कहते हैं। इसके बाद महिला पत्रकार के मुख से इतना सब कुछ सुनने के बाद टिकैत साहब का पारा इस कदर गरमा गया कि उन्होंने महिला पत्रकार को कह दिया कि सुन तो ले भूतनी के।

इसके बाद महिला पत्रकार ने टिकैत के उक्त शब्दावली पर विरोध जताते हुए कहा कि मैं भूतनी नहीं हूं, मैं लड़की हूं। इस दौरान टिकैत बुरी तरह से भड़क चुके थे, लेकिन वहां मौजूदा लोगों भी महिला पत्रकार का पक्ष लेते हुए कहा कि टिकैत की भाषा शैली का विरोध किया। इस पर टिकैत ने कहा कि तुम बस सवाल ही पूछी जा रही हो, मेरी बातों का जवाब देने नहीं दे रही है। लेकिन, जिस तरह की भाषा शैली का इस्तेमाल टिकैत की तरफ से किया गया है, उसे लेकर अब सोशल मीडिया पर उनकी फजीहत हो रही है।

Latest