योगी सरकार की उदारता का नायाब नमूना, कोटा के बच्चों की तरह नेपाली छात्रों को भी सकुशल घर पहुंचाया

सीएम योगी ने कोटा के बच्चों की तरह ही नेपाली छात्रों के लिए तत्काल बस की व्यवस्था करवाई और सभी छात्रों को सकुशल और सुरक्षित तरीके से भारत-नेपाल सीमा पर पहुंचाया।

Written by: May 27, 2020 8:16 pm

नई दिल्ली। योगी आदित्यनाथ सरकार ने अपनी उदारता का एक और नायाब उदाहरण पेश किया है। नेपाल के कई छात्र यूपी में फंसे थे। जानकारी मिलने पर सीएम योगी ने कोटा के बच्चों की तरह ही नेपाली छात्रों के लिए तत्काल बस की व्यवस्था करवाई और सभी छात्रों को सकुशल और सुरक्षित तरीके से भारत-नेपाल सीमा पर पहुंचाया। जहां से सभी छात्र अपने घर नेपाल पहुंचे।

Yogi adityanath
चीन और नेपाल के भारत के रिश्तों में आ रही कडवाहट से हटकर उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने एक नई मिसाल पेश की है। जिस वक्त सीमा विवाद को लेकर नेपाल अपने रिश्ते तल्ख कर रहा है, उस वक्त मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने नेपाली छात्रों को सकुशल और सुरक्षित नेपाल पहुंचा कर पूरी दुनिया में भारत की एक उदारवादी छवि पेश की है।

Yogi Adityanath
दरअसल उत्तराखंड से 22 नेपाली छात्र उत्तर प्रदेश आए थे। लॉकडाउन के कारण नेपाल जाने के लिए कोई साधन उपलब्ध न होने की वजह से सभी छात्र परेशान थे। इन छात्रों को नेपाल उनके घर पहुंचाने के लिए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने उत्तर प्रदेश परिवहन निगम के अधिकारियों को निर्देश दिया। इसके बाद इन छात्रों को परिवहन निगम की बसों द्वारा भारत- नेपाल बॉर्डर तक निशुल्क पहुंचाया गया।

yogi-adityanath
इससे पहले मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के निर्देश पर राजस्थान के कोटा में फंसे 12,000 से ज्यादा छात्रों को सकुशल और सुरक्षित तरीके से उनके घर निशुल्क पहुंचाया गया।