Mission Shakti: नारी सुरक्षा को लेकर योगी सरकार का बड़ा कदम, तहसील से लेकर ब्लॉक स्तर तक बनेगा महिला हेल्प डेस्क

Women Help Desk: हेल्प डेस्क(Help Desk) को लेकर सीडीओ आनंद कुमार शुक्ला ने बताया कि बृहस्पतिवार से विकास भवन में महिला हेल्प डेस्क की शुरूआत हो जाएगी। जल्द ही सभी तहसीलों और ब्लाकों(Block Level) में इसकी स्थापना की जाएगी।

Avatar Written by: October 21, 2020 7:45 pm
Women Help Desk

नई दिल्ली। शारदीय नवरात्रि में योगी सरकार द्वारा चलाए जा रहे मिशन शक्ति को लेकर योगी सरकार ने बड़ा कदम उठाया है। बता दें कि योगी सरकार अब हर जिले की तहसील से लेकर ब्लॉक स्तर तक महिला हेल्प डेस्क की स्थापना करने जा रही है। इसके जरिए राज्य सरकार की ओर से शारदीय नवरात्र के दौरान नारी सुरक्षा, सम्मान और स्वावलंबन अभियान चलाने का निर्देश दिया गया है। इसी क्रम में सरकार की ओर से विकास भवन कार्यालय, तहसील और ब्लाक कार्यालयों में महिला हेल्प डेस्क स्थापित करने का निर्देश दिया गया है। बता दें कि महिला हेल्प डेस्क पर महिलाओं और बालिकाओं द्वारा सरकार द्वारा संचालित सभी कार्यक्रमों की जानकारी उपलब्ध कराई जाएगी। इसके साथ ही इस डेस्क पर एक रजिस्टर होगा जिस पर हेल्प डेस्क पर आने वाले वाली महिलाओं व बालिकाओं की समस्या लिखी जाएगी और उसका हल किया जाएगा।

इतना नहीं महिला का पूरा विवरण उस रजिस्टर में दर्ज होगा। अगर वह कोई कार्य करना चाहती है तो उसका फार्म भरवा कर योजना का लाभ दिलाने के लिए संबंधित विभाग को भेजा जाएगा। इस डेस्क को लेकर शासन स्तर से हर जिले के डीएम की अध्यक्षता में जिला स्तरीय समिति बनाने का निर्देश दिया गया है। इसमें संबंधित विभागों के जिला स्तरीय अधिकारी सदस्य होंगे। मंडलायुक्त इसकी हर पखवारे में समीक्षा करेेंगे।

Yogi Adityanath

हेल्प डेस्क को लेकर सीडीओ आनंद कुमार शुक्ला ने बताया कि बृहस्पतिवार से विकास भवन में महिला हेल्प डेस्क की शुरूआत हो जाएगी। जल्द ही सभी तहसीलों और ब्लाकों में इसकी स्थापना की जाएगी। बता दें कि हेल्प डेस्क के निर्माण का उद्देश्य महिलाओं और बालिकाओं को अपनी शिकायत को लेकर जगह-जगह से भटकने से रोकने के लिए किया गया है।

Yogi Haappy

इस हेल्प डेस्क का स्वरूप कुछ इस तरह होगा-

महिलाओं की शिकायत सुनने के लिए हर तहसील पर एक महिला तैनात की जाएगी, जो व्यवहार कुशल और मृदुभाषी होगी, और महिलाओं की शिकायत सुनेगी
शिकायत लेकर आने वाली महिलाओं को किसी प्रकार की समस्या ना हो, इसका विशेष ध्यान रखा जाएगा
हर शिकायत को दर्ज करने के बाद शिकायतकर्ता को एक रसीद भी दी जाएगी
शिकायतों का निस्तारण IGRS पोर्टल पर N.I.C. द्वारा विकसित महिला हेल्प डेस्क मॉड्यूल पर किया जाएगा
हर 15 दिन में शिकायतों के निस्तारण की समीक्षा की जाएगी