लॉकडाउन का साइड इफेक्ट : बढ़ते वजन को करें इन आदतों से कंट्रोल

लॉकडाउन के चौथे चरण में लगातार घर में रहने की वजह से लोगों की दिनचर्या में अनियमितता आई है और लोग ज्यादा खाने लगे हैं। जिसके कारण वजन बढ़ने की समस्या भी आम हो गई है। सेहत के साथ ही घर के बजट में गड़बड़ी न आए। इसके लिए जरूरी है कि आप अपनी दिनचर्या में इन बातों को शामिल करें। ऐसा करने से बढ़ते वजन को कम करने सफल होंगे।

Written by: May 14, 2020 3:45 pm

नई दिल्ली। लॉकडाउन के चौथे चरण में लगातार घर में रहने की वजह से लोगों की दिनचर्या में अनियमितता आई है और लोग ज्यादा खाने लगे हैं। जिसके कारण वजन बढ़ने की समस्या भी आम हो गई है। सेहत के साथ ही घर के बजट में गड़बड़ी न आए। इसके लिए जरूरी है कि आप अपनी दिनचर्या में इन बातों को शामिल करें। ऐसा करने से बढ़ते वजन को कम करने सफल होंगे।

weight loss

जंकफूड करें अवॉइड

अगर लगातार घर में रहने से बच्चे और बड़े जंकफूड और चीज से भरी खाने वाली चीजों की डिमांड कर रहे हैं। तो उसके लिए हेल्दी विकल्प पास रखिए। बच्चों को कुछ हेल्दी और चटपटा खाने के लिए दीजिए जिससे उनका पेट भरे और वो बार-बार जंकफूड न मांगे। ऐसा करने से आप बच्चों की सेहत भी बना सकेंगी और मोटापे की मार से भी बचा पाएंगी।

weight loss

पैकेट बंद खाद्य पदार्थ को करें अवॉयड

दिनभर में तय कर दें कि एक ही तरह का स्नैक्स खाएं। इससे पैकेट बंद खाद्य पदार्थ को खाने से सभी बच सकेंगे। वहीं टीवी देखकर खाना न खाएं और रात को सोने का समय निर्धारित करें। जिससे कि भूख पर नियंत्रण रखा जा सके और ओवरइटिंग से बचा जा सके। ज्यादा खाने से बचना है तो खाने के दस से पंद्रह मिनट पहले पानी पीएं। ऐसा करने से केवल जरूरतभर का खाना खा पाएंगे और ये खाने को पचने में मदद करेगा।

कैलोरी में करें कटौती

लोगों का ज्यादातर समय घर पर बीतने की वजह से शरीर की कैलोरी खर्च करने में कमी आई है। ऐसे में अगर आप खाने में ही कटौती कर देंगे तो बढ़ते वजन से छुटकारा मिल जाएगा।

stomach weight

दिनचर्या में कसरत करें शामिल

दिनचर्या में कसरत को शामिल करें। कसरत के लिए घर से बाहर निकलने की जरूरत नहीं पड़ेगी। घर में तीस मिनट टहलें, छत पर या कमरे या गार्डन में कई चक्कर लगाकर इसे पूरा किया जा सकता है। बच्चों की शारीरिक गतिविधियों को बनाए रखने के लिए उन्हें रस्सीकूद जैसे खेल खेलने के लिए प्रेरित करें। बच्चों के खाने में फाइबर वाले पदार्थ को शामिल करें ताकि उनका पेट भरा रहे और पाचनतंत्र सही रहे।