रिलेशनशिप हेल्थ एप का सर्वेक्षण, जोड़ों को करीब ला रहा लॉकडाउन

 कोविड-19 में सोशल डिस्टेंसिंग का सख्ती से पालन जरूरी है, लेकिन इस सामाजिक दूरी ने लोगों की अपनों के बीच दूरियां घटा दी हैं। जिस तरह लोग पूरे समय घर के अंदर रह रहे हैं, इससे उनके आपसी रिश्ते खिलने लगे हैं। ये बात एक रिलेशनशिप हेल्थ एप के सर्वेक्षण में सामने आई है।

Written by: May 13, 2020 6:40 pm

नई दिल्ली। कोविड-19 में सोशल डिस्टेंसिंग का सख्ती से पालन जरूरी है, लेकिन इस सामाजिक दूरी ने लोगों की अपनों के बीच दूरियां घटा दी हैं। जिस तरह लोग पूरे समय घर के अंदर रह रहे हैं, इससे उनके आपसी रिश्ते खिलने लगे हैं। ये बात एक रिलेशनशिप हेल्थ एप के सर्वेक्षण में सामने आई है।


शादीशुदा और एंगेज्ड उत्तरदाताओं में से लगभग आधे (47 प्रतिशत) और डेटिंग कर रहे एक तिहाई (38 प्रतिशत) से अधिक लोगों का मानना है कि इस अवधि के दौरान उनका रिश्ता मजबूत हो गया है। विवाह परामर्श देने वाले ऐप द नॉट वल्र्डवाइड से ये आंकड़े मिले हैं। ऐप द्वारा एक ‘एट होम टुगेदर’ सर्वेक्षण किया गया।

यह एकल लोगों, नवविवाहितों और विवाहित जोड़ों के साथ-साथ ऐसे लोगों पर किया गया जो वर्तमान में एक रिश्ते में हैं। अप्रैल 2020 के आखिरी दो सप्ताह में किए गए सर्वेक्षण मे यह भी पाया गया कि 90 प्रतिशत जोड़े बड़े पैमाने पर एक-दूसरे के साथ समय बिता रहे हैं। लगभग 40 प्रतिशत ने कहा कि वे एक-दूसरे के साथ करीब 18 घंटे बिता रहे हैं।

इस दौरान कई जोड़े जिम्मेदारियों को विभाजित करके साथ में घरेलू काम कर रहे हैं। बड़ी संख्या में लोगों ने एक साथ खाना पकाने या अपने पसंदीदा शो को देखने की बात कही। महामारी द्वारा लाई गई नकारात्मकता के बावजूद केवल 10 प्रतिशत से कम जोड़ों ने कहा कि उनके रिश्ते में तनाव आ गया है। अविवाहित या लंबी दूरी पर रह रहे जोड़ों में से दो-तिहाई से अधिक अपने साथियों के साथ फोन और वीडियो चैट पर संपर्क में रहते हैं। आधे लोग ज्यादातर समय कनेक्ट रहना पसंद करते हैं, वहीं 100 में से सिर्फ 15 समय-सीमा निर्धारित करना पसंद करते हैं।