Connect with us

खेल

BCCI का ऐतिहासिक निर्णय, अब महिला और पुरुष क्रिकेटर्स में भेदभाव किया खत्म, जानिए क्या लिया फैसला

BCCI: इसके साथ ही अब महिला क्रिकेट खिलाड़ियों को एक टेस्ट मैच के लिए 15 लाख रुपये, वनडे के लिए 6 लाख रुपये और एक टी-20 मैच के लिए 3 लाख रुपये मिलेंगे। बता दें कि काफी लंबे वक्त से महिला और पुरुष क्रिकेटरों की फीस बराबर दिए जाने की मांग की जा रही थी। जिसको आज दुनिया के सबसे अमीर क्रिकेट बोर्ड बीसीसीआई ने पूरा कर दिया है।

Published

नई दिल्ली। गुरुवार को भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड यानि बीसीसीआई ने बड़ा फैसला लिया है।टी-20 विश्व कप 2022 के बीच बीसीसीआई ने महिला क्रिकेट खिलाड़ियों को खास तोहफा दिया है। बीसीसीआई सचिव जय शाह ने आज ट्वीट कर बड़ा ऐलान किया है। उन्होंने जानकारी दी है कि अब महिला और पुरुष क्रिकेटर्स को समान मैच फीस मिलेगी। इसके साथ ही अब महिला और पुरुष क्रिकेटर्स में फीस को लेकर जो भेदभाव खत्म होगा। यानी महिला टीम की खिलाड़ियों की मैच फीस है वो अब पुरुष क्रिकेटर्स रोहित शर्मा, विराट कोहली के बराबर होगी। जय शाह ने ट्वीट करते हुए लिखा, ”मुझे यह घोषणा करते हुए खुशी हो रही है कि बीसीसीआई भेदभाव से निपटने की दिशा में पहला कदम उठाया। हम अपने अनुबंधित के लिए वेतन इक्विटी नीति लागू कर रहे हैं। पुरुष और महिला क्रिकेटरों दोनों के लिए मैच फीस समान होगी क्योंकि हम क्रिकेट में लैंगिक समानता के एक नए युग में प्रवेश कर रहे हैं।”

इसके साथ ही अब महिला क्रिकेट खिलाड़ियों को एक टेस्ट मैच के लिए 15 लाख रुपये, वनडे के लिए 6 लाख रुपये और एक टी-20 मैच के लिए 3 लाख रुपये मिलेंगे। बता दें कि काफी लंबे वक्त से महिला और पुरुष क्रिकेटरों की फीस बराबर दिए जाने की मांग की जा रही थी। जिसको आज दुनिया के सबसे अमीर क्रिकेट बोर्ड बीसीसीआई ने पूरा कर दिया है।

इस ऐलान के साथ ही अब पुरूष और महिला क्रिक्रेटरों को एक समान वेतन मिलेगा और इसके साथ ही बीसीसीआई के निर्णय से खेल जगत में भी बड़ा बदलाव देखने को मिल सकता है। बता दें कि इससे पहले महिला को एक टेस्ट के लिए 4 लाख रुपये मिलते थे। इसके अलावा हर एक वनडे के लिए 2 लाख और टी-20 2.50 लाख पैसे मिलते थे।

Advertisement
Advertisement
Advertisement