BCCI ने किया ऐलान, चीनी मोबाइल कंपनी वीवो नहीं होगी IPL 2020 की स्पॉन्सर

आईपीएल का 13वां सीजन यूएई में 19 सितंबर से 10 नवंबर तक खेला जाएगा। पहले यह आईपीएल का आगाज 29 मार्च से भारत होना था, लेकिन कोरोना वायरस चलते लीग को अनिश्चितकाल के लिए स्थगित कर दिया गया।

Avatar Written by: August 6, 2020 4:43 pm

नई दिल्ली। भारत-चीन सीमा विवाद के बीच भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड ने बड़ा कदम उठाते हुए आईपीएल 2020 सत्र के लिए  चाइनीज मोबाइल कंपनी विवो के साथ अपना करार खत्म कर दिया है। बीसीसीआई द्वारा ये फैसला भारत और चीन के बीच बने गलवान घाटी में गतिरोध के चलते लिया गया है।

bcci on corona 4

बीसीसीआई ने एक लाइन के बयान में कहा है कि वीवो इस साल आईपीएल से नहीं जुड़ेगा। BCCI की प्रेस विज्ञप्ति में कहा गया, “भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) और विवो मोबाइल इंडिया प्राइवेट लिमिटेड ने 2020 में इंडियन प्रीमियर लीग के लिए अपनी साझेदारी को स्थगित करने का फैसला किया है।”

vivo

बता दें, इस करार के तहत BCCI को सालाना 440 करोड़ रुपए मिलते थे। चाइनीज मोबाइल निर्माता कंपनी वीवो ने 2,199 करोड़ रुपये की बड़ी बोली पांच साल (2018-2022) के लिए इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) के टाइटल प्रायोजन अधिकार हासिल किए थे। BCCI के अपने संविधान के अनुसार नये टाइटल प्रायोजक के लिये निविदा प्रक्रिया शुरू करने की संभावना है।

IPL 2020

गौरतलब है कि आईपीएल का 13वां सीजन यूएई में 19 सितंबर से 10 नवंबर तक खेला जाएगा। पहले यह आईपीएल का आगाज 29 मार्च से भारत होना था, लेकिन कोरोना वायरस चलते लीग को अनिश्चितकाल के लिए स्थगित कर दिया गया।