Connect with us

टेक

Pegasus Row: Apple ने इजरायली कंपनी पर कराया केस, iPhone यूजर्स की जासूसी का आरोप

एप्पल के सॉफ्टवेयर इंजीनियरिंग के सीनियर वीपी क्रेग फेडेरिघी ने एनएसए ग्रुप को इजरायल सरकार की ओर से प्रायोजित बताया है। उनका आरोप है कि बिना किसी जवाबदेही के निगरानी की तकनीक पर लाखों डॉलर खर्च हो रहे हैं और इसे बदलने की जरूरत है।

Published

on

pegasus-spyware

अटलांटा। आईफोन बनाने वाली दिग्गज टेक कंपनी एप्पल ने इजरायली जासूसी सॉफ्टवेयर पेगासस बनाने वाली कंपनी एनएसओ ग्रुप पर केस कराया है। ये केस अमेरिका के कैलिफोर्निया की संघीय अदालत में किया गया है। एप्पल का आरोप है कि एनएसओ ग्रुप ने साइबर निगरानी मशीन बनाई है और इसका दुरुपयोग हो रहा है। साथ ही एप्पल ने आरोप लगाया है कि पेगासस स्पाईवेयर के जरिए आईफोन रखने वालों को निशाना बनाया जा रहा है। एप्पल ग्राहकों की एक छोटी संख्या को दुनियाभर में पेगासस के जरिए निशाना बनाए जाने की बात इस केस में कही गई है। एप्पल के सॉफ्टवेयर इंजीनियरिंग के सीनियर वीपी क्रेग फेडेरिघी ने एनएसए ग्रुप को इजरायल सरकार की ओर से प्रायोजित बताया है। उनका आरोप है कि बिना किसी जवाबदेही के निगरानी की तकनीक पर लाखों डॉलर खर्च हो रहे हैं और इसे बदलने की जरूरत है।

apple logo

उधर, एनएसओ ग्रुप कई बार गलत काम करने के आरोपों से इनकार कर चुका है। एनएसओ हमेशा दलील देता है कि उसके स्नूपिंग यानी जासूसी और निगरानी सॉफ्टवेयर का इस्तेमाल सरकारें करती हैं और इससे आतंकवाद औऱ अपराध करने वालों पर नजर रखी जाती है। एप्पल के केस पर अभी एनएसओ ने कुछ नहीं कहा है। बता दें कि एनएसओ पर सोशल मीडिया की कंपनी फेसबुक ने भी केस कराया है। अमेरिकी वाणिज्य विभाग ने भी एनएसओ को बीते दिनों ब्लैकलिस्ट किया था। कुछ ही वक्त पहले सुरक्षा शोधकर्ताओं ने पाया था कि दुनिया भर में मानवाधिकार कार्यकर्ताओं, पत्रकारों और यहां तक ​​कि कैथोलिक पादरियों के फोन में सेंध लगाने के लिए पेगासस का इस्तेमाल किया जा रहा था। भारत में भी इस पर काफी चर्चा थी और विपक्ष ने इसके लिए मोदी सरकार को जमकर निशाने पर लिया था।

PM-Modi-Pegasus

मोदी सरकार भले ही विपक्ष के निशाने पर आई, लेकिन उसने संसद से लेकर सुप्रीम कोर्ट तक कहा था कि उसने कुछ गलत नहीं किया। अब सुप्रीम कोर्ट ने पूरे मामले की जांच के लिए एक्सपर्ट्स की एक कमेटी बनाई है। इस मामले में अगले साल की शुरुआत में कोर्ट का फैसला आ सकता है।

Advertisement
Continue Reading
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Advertisement
मनोरंजन1 week ago

Boycott Laal Singh Chaddha: क्या Mukesh Khanna ने Aamir Khan की फिल्म के बॉयकॉट का किया समर्थन, बोले-अभिव्यक्ति की आजादी सिर्फ मुस्लिमों के पास है, हिन्दुओं के पास नहीं

दुनिया2 weeks ago

Saudi Temple: सऊदी अरब में मिला 8000 साल पुराना मंदिर और यज्ञ की वेदी, जानिए किस देवता की होती थी पूजा

milind soman
मनोरंजन1 week ago

Milind Soman On Aamir Khan: ‘क्या हमें उकसा रहे हो…’; आमिर के समर्थन में उतरे मिलिंद सोमन, तो भड़के लोग, अब ट्विटर पर मिल रहे ऐसे रिएक्शन

मनोरंजन3 days ago

Mukesh Khanna: ‘पति तो पति, पत्नी बाप रे बाप!..’,रत्ना पाठक के करवाचौथ पर दिए बयान पर मुकेश खन्ना की खरी-खरी, नसीरुद्दीन शाह को भी लपेटा

मनोरंजन3 weeks ago

Ullu Latest Hot Web Series: 4 नई हॉट और बोल्ड वेबसीरीज हुई हैं रिलीज़, ‘चरमसुख’ – ‘चूड़ीवाला पार्ट 2’ और ‘सुर सुरीली पार्ट 3’ आपने देखी क्या

Advertisement